सुषमा स्वराज का मिशन क़तर शुरू. वहां फंसे भारतीयों को वापस सकुशल लाने का अभियान शुरु

एक बार फिर सुषमा स्वराज ने विदेश में फसे नागरिको की साहयता कर अपना फर्ज अदा किया है. कतर की राजधानी दोहा से स्वदेश आने के इच्छुक उन भारतीयों के लिए जिन्हें टिकट नहीं मिल पा रहे हैं 22 जून से 08 जुलाई तक अतिरिक्त उड़ान की व्यवस्था की गई है. नागरिक उड्डयन मंत्रालय में आज हुई एक बैठक में यह फैसला किया गया. अतिरिक्त उड़ानों की व्यवस्था विदेश मंत्रालय के अनुरोध पर की गई है.

नागरिक उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू ने ने ट्वीट कर इस संबंध में जानकारी दी. उन्होंने लिखा, हम दोहा से तिरुवनंनतपुरम, कोचिन और मुंबई के लिए उन भारतीयों के लिए अतिरिक्त उड़ानें शुरू करेंगे जिन्हें टिकट नहीं मिल पा रहे हैं. दोहा से हमारे नागरिकों को समय पर लाने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जाएंगे. मैं और (विदेश मंत्री) सुषमा स्वराज जी लगातार संपर्क में हैं. बोइंग 737 विमान का इस्तेमाल जेट एयरवेज 22 और 23 जून को मुंबई-दोहा-मुंबई मार्ग पर अतिरिक्त उड़ान का संचालन करेगी. 

इसके लिए 168 सीटों वाले विमान का इस्तेमाल होगा. इसके अलावा सरकारी विमान सेवा कंपनी एयर इंडिया की सहयोगी एयर इंडिया एक्सप्रेस तिरुवनंनतपुरम-दोहा-कोचीन-तिरुवनंनतपुरम मार्ग पर 25 जून से 08 जुलाई तक अतिरिक्त उड़ान का संचालन करेगी. इसके लिए वह 186 सीटों वाले बोइंग 737 विमान का इस्तेमाल करेगी. सुषमा ने 19 जून को इस संबंध में राजू से बात कर अतिरिक्त उड़ानों की व्यवस्था करने का आग्रह किया था.
Share This Post