होटल ताज में हिन्दुस्तानियों का खून बहाने के दोषी लश्कर आतंकी हेडली पर अमेरिका की शिकागो जेल में हमला.. हालत गंभीर

ये गुनाहगार है भारत के उन निर्दोषो का जो धर्मनिरपेक्ष छवि के जीवन को जीते हुए अपने घर अपने परिवार के साथ उस दिन होटल ताज में मौजूद थे .. वहां फिर बहा खून और बिछी थी लाशें . उन तमाम पापियों को मुंबई की पुलिस और NSG ने उसी समय मार डाला था लेकिन बचा था अजमल कसाब जिसे बाद में भारत की अदालत ने मृत्युदंड दिया था . फिर इसमें एक नाम सामने आया जो दूर देश में बैठ कर इस हमले को अंजाम दिया था . उसका नाम था डेविड हेडली . ये नाम से भले ही किसी और मत या मज़हब का दिखे लेकिन असल में ये था एक दुर्दांत इस्लामिक आतंकी और इसका समूह था लश्कर ए तोइबा . 

यद्दी भारत के तमाम प्रयासों के बाद आख़िरकार अमेरिका को इस हत्यारे पर शिकंजा कसना ही पड़ा और इसको भेज दिया गया शिकागो जेल में . ज्ञात हो कि मुंबई में हुए 26/11 आतंकी हमलों के मामले में दोषी करार डेविड कॉलमैन हेडली पर अमेरिका के शिकागो की जेल में हमला हुआ है। अब तक मिली खबरों के अनुसार हमलावरों की संख्या दो है जिन्होंने इसको अधमरा होने की नौबत तक मारा है और ये इस समय बेहद गंभीर रूप से घायल है . 

हेडली की हालत इतनी खराब है कि उसे शिकागो के नॉर्थ एवेस्टन अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां वह जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहा है। प्राप्त सूत्रों के अनुसार ये हमला पिछले कुछ समय पहले हुआ था और हमलावर दोनों सगे भाई हैं और जेल भी किसी पुलिस वाले पर हमला करने के अपराध में आये हैं . डेविड हेडली मुंबई हमलों के अलावा यूरोप में भी आतंकी गविधियों में लिप्‍त था। वह कोपेनहेगन में भी रेकी करने गया था, जहां उसे एक डेनिश समाचार पत्र के कार्यालय पर हमले की योजना बनानी थी। पाकिस्‍तानी मूल के अमेरिकी नागरिक डेविड हेडली आईएसआई और लश्‍कर ए तैयबा के लिए काम करता था, वह 26/11 हमलों से पहले मुंबई आया था और रेकी करके गया था। 

Share This Post