Breaking News:

ISIS के बारे में राहुल गांधी की टिप्पणी तब आयी सवालों के घेरे में जब अमेरिकियों व रूसियों के नरसंहार का हुआ एलान

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस समय 4 दिवसीय विदेश यात्रा पर हैं. अपने विदेशी दौरे पर जर्मनी पहुंचे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक कार्यक्रम में ऐसा बयान दिया जिससे वह निशाने पर आ गये हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि ISIS के उभरने का कारण बेरोजगारी थी. इधर राहुल गांधी बेरोजगारी को ISIS के सामने आने का जिम्मेदार बता रहे थे तो उधर ISIS चीफ जिहाद के नाम पर मुस्लिम समाज के लोगों को उकसा रहा था कि  अमेरिका तथा रूस के लोगों का क़त्ल करें, उनका नरसंहार करें.

आपको बता दें कि इस साल पहली बार आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने अपने मुखिया अबु बकर अल-बगदादी का एक कथित ऑडियो जारी किया है. आपने इस ऑडियो में बगदादी आतंकियों से अल्लाह द्वारा ली जा रही परीक्षा की घड़ी में एक रहने को कह रहा है. बगदादी का यह ऑडियो संदेश करीब 55 मिनट का है. सीएनएन के मुताबिक़, ISIS चीफ बगदादी ऑडियो में कह रहा है कि उसके समर्थकों की भय और भूख से परीक्षा ली जा रही है लेकिन खुशखबरी उन्हें ही मिलेगी जो सब्र के साथ इसका सामना करेंगे। यह ऑडियो मेसेज बुधवार को ISIS के मीडिया विंग अल-फुरकान ने जारी किया है. बगदादी ने ऑडियो संदेश में कहा है, ‘एक सच्चे मुजाहिदीन के लिए जीत या हार इस बात पर निर्भर नहीं करती कि उसके कब्जे में कितने शहर हैं, उसके पास अंतरमहाद्वीपीय मिसाइलें हैं या स्मार्ट बॉम्ब हैं या नहीं, या फिर उसके कितने समर्थक हैं. यह इस बात पर निर्भर करता है कि उसे अल्लाह पर कितना भरोसा है.

ISIS बगदादी ने रिकॉर्डिंग में पश्चिम एशिया, एशिया और अफ्रीका में अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा, ‘अल्लाह की रहमत से खलीफा बना रहेगा.’ अभी यह स्पष्ट नहीं है कि यह संदेश कब रिकॉर्ड किया गया लेकिन बगदादी सीरिया के उत्तर पूर्वी हिस्से के पुनर्निर्माण के लिए गत सप्ताह सऊदी अरब द्वारा 10 करोड़ डॉलर दिए जाने की आलोचना करता दिखाई दिया. उसने अमेरिका और रूस को धमकी देते हुए कहा कि जिहादियों ने उनके लिए ‘भयावहता’ की तैयारी की है.

Share This Post