केरल से अफगानिस्तान आतंक फैलाने गये गद्दार आतंकी मुहम्मद मोहसिन को मार गिराया अमेरिकी फौजों ने . वो अनपढ़ नहीं बल्कि इंजिनियरिंग का छात्र था

आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता इसको आपने भारत के तथाकथित सेक्युलर नेतोँ से कई बार सुना होगा लेकिन तमाम ऐसे इशारे और संकेत आये दिन आया करते हैं जिस से ये पता चलता है कि आतंक की एक सोच और विचारधारा जरूर होती है और वही विचारधारा किसी को कभी भी उस राह पर ले कर चली जाती है जो राह दुनिया के विनाश की कल्पना से बनी हुई है . कभी भारत से ईराक और सीरिया जा कर लड़ने वालों की भिड लगी थी और अब एक मामला अफगानिस्तान से आया है .

अब मंदिरों में जो फूल चढ़ाए जाते है उससे बनेंगी अगरबत्तियां…

ध्यान देने योग्य है कि भारत का खा कर भारत के ही खिलाफ जहर उगलने की मंशा से ग्रसित एक और गद्दार विदेशी धरती पर ढेर हो गया है . भारत भूमि को छोड़ कर ISIS में भर्ती होने अफगानिस्तान गये आतंकी को अमेरिका की फौजों ने मार गिराया है .. एक अमेरिकी ड्रोन के हमले में इस आतंकी के ढेर होने की खबर आ रही है .  दरअसल, मुहम्मद मुहसिन नाम का यह जिहादी इंजीनियरिंग का छात्र था जोकि २०१७ में लापता हो गया था.  मुहम्मद मुहसिन केरल के मल्लपुरम जिले के इडप्पल का रहने वाला था।

आख़िरकार आ ही गया ZOMATO वाले डिलीवरी बॉय फैयाज़ का बयान. वही बोला जो अनुमान था

बाद में जानकारी मिली थी कि वो आतंक के रस्ते पर चलते हुए अफगानिस्तान चला गया था और उसने आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (IS) ज्वॉइन कर लिया था। ये वो जगह है जहाँ ISIS तालिबान के प्रभाव को कम करने के लिए दोतरफा लड़ाई लड़ रहा है .  खबर यह भी है कि इस हमले में मुहम्मद मोहसिन के अलावा इस्लामिक स्टेट का एक अन्य कमांडर हुजैफा-अल-बकिस्तान भी मारा गया है। बकिस्तान के बारे में पता चला है कि वो भारतीय युवाओं को आतंक के रास्ते पर चलने के लिए भडकाता था।मुहम्मद मुहसिन की मौत की खबर उसके परिजनों को व्हाटसएप के एक संदेश के जरिए मिली।

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW