अब अमेरिका में पाकिस्तान का हर नागरिक देखा जाएगा शक की निगाह से.. डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तानी वीजा पर लिया ये कड़ा फैसला


भारत से भिड़ना पाकिस्तान के लिए कितना नुक्सान कर रहा है ये उसके वर्तमान हालात से समझा जा सकता है . अगर उस कुत्ते की कल्पना की जाय जो न घर का होता है और न ही घाट का तो उस मुहावरे में पाकिस्तान एकदम फिट बैठता है. वो पाकिस्तान जो अब न अफगानिस्तान का है , न ईरान का है , न अमेरिका का है , न आतंकियों का है और न ही अपने खुद के देश के नागरिकों का है .. हर तरफ से ठोकर खाते पाकिस्तान पर एक और ठोकर मारी है अमेरिका ने .

ज्ञात हो कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान के ऊपर भारत ने सबसे पहले एयर स्ट्राइक की जिसमे उसके कई आतंकी मारे जाने की खबर है . फिर उसके बाद उसको दुनिया भर से ठुकराया गया लेकिन अब उस से भी ज्यादा आगे बढ़ कर अमेरिका ने किया है कुछ ऐसा कि अमेरिका जाने वाला हर पाकिस्तानी अब शक की नजर से देखा जायेगा और इसी के बाद अमेरिका की नकल आने वाले समय में यूरोपीय देशों द्वारा भी करने की सम्भावना जताई जा रही है .

अमेरिका ने पाकिस्तान से आने वाले नागरिकों की वीजा की समय सीमा को घटा दिया है. नए नियम के मुताबिक, अब अमेरिका आने वाले पाकिस्तानी नागरिकों को सिर्फ 3 महीने का ही वीजा मिलेगा. बता दें कि इससे पहले पाकिस्तानी नागरिकों को 5 साल का वीजा दिया जाता था. यद्दपि भारत वालों के लिए यही वीजा अभी भी अपरिवर्तनीय है . अमेरिका का  ये कदम पाकिस्तान के खिलाफ उसकी बढ़ रही वैमनस्यता के साथ साथ  भारत से बढ़ रही उसकी नजदीकी और भारत की सफल कूटनीतिक जीत के रूप में भी देखा जा रहा है .


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...