कभी पाकिस्तान के सबसे मोटे व्यक्ति हसन को अस्पताल पहुचाने के लिए उतरी थी पाकिस्तानी थल सेना.. लेनी पड़ी थी वायुसेना की भी मदद


जहाँ एक तरफ भारत को गीदड़ भभकी देते हुए पाकिस्तान आये दिन कभी कश्मीर तो कभी कुलभूषण जाधव का मुद्दा छेड़ता रहता है तो वहीँ उसकी सेना भारत की फ़ौज से जंग के हालत से पहले अपने ही देश में एक ऐसे हालात का सामना कर रही है जो शायद ही किसी देश को करना पडा रहा हो.. अक्सर सेना वहीँ उतारी जाती है जहाँ पर स्थानीय प्रशासन और पुलिस बल फेल हो चुका हो , तो क्या ये कहना सही होगा कि पाकिस्तान में सबसे मोटा व्यक्ति वहां के प्रशासन और पुलिस पर भारी रहा था ?

जानिए जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के पर्यटन के लिए कौनसी प्लानिंग की है पर्यटन मंत्री ने..

विदित हो कि पाकिस्तान में आखिरकार सेना और वायुसेना की मदद से वहां के सबसे मोटे व्यक्ति को अस्पताल पंहुचा ही दिया था . उस व्यक्ति को अस्पताल पहुचाने के बाद पाकिस्तान सैनिक ऐसे ख़ुशी से झूम रहे थे जैसे कि उन्होंने कोई जंग जीत रखी हो . पाकिस्तान एंडोक्राइन सोसायटी द्वारा पिछले साल जारी एक सर्वेक्षण रिपोर्ट के अनुसार, 29 प्रतिशत पाकिस्तानी जनसंख्या अधिक वजन की शिकार है जिनमें से 51 प्रतिशत को मोटापे की श्रेणी में रखा गया है।

मोदी का मुरीद होता जा रहा है वो कद्दावर कांग्रेसी जो कभी रीढ़ हुई करता था कांग्रेस की.. आखिर कौन खुश हुआ मोदी-ट्रंप मुलाक़ात से

इसी क्रम में पाकिस्तानी मीडिया ने ही वहां के हसन को पाकिस्तान का वजन के हिसाब से सबसे भारी व्यक्ति करार दिया था .. नूर हसन का वजन 330 किलो था ..वे चल-फिर भी नहीं पाते थे. तब पाकिस्तानी सेना ने उन्हें पंजाब प्रांत के सादिकाबाद जिले से 400 किमी दूर लाहौर के सेना अस्पताल में पहुंचाया था। खास बाद यह रही कि नूर हसन को उनके घर से मुख्य दरवाजे बाहर निकालना संभव नहीं हुआ तो दीवार तोड़नी पड़ी थी..पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने हसन के इलाज के लिए जरूरी इंतजाम किए जाने के आदेश दिए थे। बाद में पाकिस्तानी वायुसेना के हेलीकॉप्टर की मदद से 55 साल के नूरुल हसन को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करें. नीचे लिंक पर जाऐं–


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...