जाने आखिर कयों हुआ एक भारतीय अमेरिका की टॉप 10 वाटेंड अपराधियों की सुची में शामिल…..

पुलिस के अनुसार, भद्रेश कुमार भारत के गुजरात राज्य का रहने वाला है और एक वीजा पर अमेरिका आया था वीजा की अवधि खत्म हो चुकी थी तो ये बात तो स्पष्ट है कि आरोपी कानूनी तौर पर देश झोड़ने में सक्षम नहीं था। जांचकर्ताओं की माने तो पलक भारत लौटना चाहती थी पर उसका पति ऐसा नहीं चाहता था। एनी एरंडंल काउंटी के प्रमुख टीम अल्टोमेयर के अनुसार, पलक पटेल की हत्या घरेलू हिंसा में की गई है। भद्रेश कमार को पकड़ने की अब तक बहुत कोशिश की जा चुकी है लेकिन अभी इसमें कोई सफलता नहीं मिल पायी है।

एफबीआई ने भद्रेश कुमार चेतनभाई पटेल की गिरफतारी जल्द कराने के लिए सूचना देने वाले को 1,00,000 डालर देने की घोषणा की है। भद्रेश कुमार की पत्नी पलक 12 अप्रैल 2015 को मैरीलैंड, हनोवर में रेस्टोरेंट में मृत पाई गई थी। दोनों पति-पत्नी डंकिन डोनट्रस के कर्मचारी थे। स्पेशल एजेंट इनचार्ज आफॅ दि एफबीआई बाल्अीमोर फील्ड आफिस गोर्डन बी जानसन ने कहा है कि भद्रेशकुमार पटेल के कथित अपराधों की बेहद हिंसक प्रवृति से उसे एफबीआई की टॉप टेन लिस्ट में स्थान मिला।

वाशिंगटनः हाल ही में एफबीआई ने टॉप-10 वाटेंड अपराधियों की सूची जारी की है और उसमें एक नाम भारतीय नागरिक का भी है जिस पर अपनी पत्नी की हत्या कर भागने का आरोप है। आरोपी पर अमेरिका के डंकिन डोनट्रस रेस्ट़ोरेंट में अपनी पत्नी की हत्या करने का आरोप है जो कि हत्या के दो साल बाद लापता हो गया था।

Share This Post