Breaking News:

बडगाम पथराव से 63 जवान घायल, 1 आतंकी सहित 3 आम नागरिकों की मौत

श्रीनगर : कश्मीर घाटी में लगातार तनाव बढ़ता जा रहा है। इसी बीच करीब 11 घंटे तक चली मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने एक आतंकी को ढेर कर दिया। वहीं, 3 स्थानीय नागरिकों की भी मौत हो गई। दरअसल, जम्मू-कश्मीर के बडगाम में हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों को एक साथ दो मोर्चों पर लड़ना पड़ा।

एक तरफ आतंकी चुनौती दे रहे थे तो दूसरी तरफ स्थानीय नागरिक पत्थरबाज़ी कर आतंकियों को कवर दे रहे थे। ये लोग सुरक्षाकर्मियों की मुश्किल बढ़ाए हुए थे। इस दोहरी चुनौती के चलते लंबी खिंची मुठभेड़ में एक आतंकी को ढेर किया गया और 60 से ज्यादा सुरक्षाकर्मी घायल हुए हैं। इनमें सीएरपीएफ के 43 और जम्मू-कश्मीर पुलिस के 20 जवान शामिल हैं।

इस बीच तीन आम नागरिकों की भी मौत हो गई। बता दें कि बडगाम के चदूरा इलाके में सुबह दो आतंकियों के छिपे होने की खबर मिली थी। इसके बाद तलाशी अभियान शुरू हुआ, लेकिन दिनभर स्थानीय पत्थरबाज़ जिन पर आतंकियों से सहानुभूति रखने का आरोप है वे रह रहकर सुरक्षाबलों के लिए बाधा बन रहे थे। इसके अलावा मुठभेड़ के विरोध में अलगाववादियों ने बुधवार को कश्मीर में बंद बुलाया है।   

वहीं, जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने सुरक्षा बलों की कार्रवाई में तीन नागरिकों की मौत पर दुख जताते हुए पत्थरबाजी के मामले पर भी तीखी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने युवाओं के आतंक से जुड़ने को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया, उन्होंने कहा कि युवाओं को जान गंवाते देखना दुखद है। हम जानते हैं कि बहुत से ऐसे मुद्दे हैं, जिनका समाधान जरूरी हैं लेकिन हिंसा अगर रोज की आदत बन जाती है तो कोई भी कुछ नहीं कर पायेगा। अनुकूल वातावरण बनाने के लिए सभी को संयम बरतने की जरूरत है। असहमति का प्रदर्शन शांतिपूर्ण तरीके से किया जाना चाहिए।

Share This Post