बेटी पैदा होने पर घर से निकला फिर दिया तीन तलाक..


दहेज की मांग पूरी न होने पर  और बेटी के पैदा होने के बाद  पत्नी को ससुर और रिश्तेदारों के सामने तीन तलाक देकर पति ने घर से बाहर निकाल दिया. घर से निकलते समय महिला के हाथ से झोले को छीनकर पति और उसके परिवार के लोगों ने ना सिर्फ तलाशी ली और उसके बाद  सिर्फ तीन कपड़े साथ ले जाने दिया.

तीन तलाक और घर से निकाले जाने की शिकायत महिला ने हैदरगंज थाने में दर्ज करवाया. पुलिस ने दूसरे थाने का प्रकरण बताकर महिला को वापस भेज दिया. इसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी के आदेश पर थाने की पुलिस ने महिला के घर पहुंचकर लिखित तहरीर लिया.

तहरीर के आधार पर पुलिस ने पति समेत छह लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर विवेचना शुरू कर दी है. थाना क्षेत्र हैदरगंज के जाना बाजार कस्बे के निवासी ताज मोहम्मद ने अपनी पुत्री जाफरीन अंजुम की शादी थाना महाराजगंज क्षेत्र अंतर्गत नकटवारा निवासी गुलाम अहमद के पुत्र इस्तिरार अहमद से 15 नवंबर वर्ष 2018 को धूमधाम से की थी.

ताज मोहम्मद ने अपनी पुत्री की शादी में दहेज की मांग को देखते हुए लड़के की पसंद की एक लाख पचासी हजार रुपए की बुलेट मोटरसाइकिल सहित कई कीमती सामान लड़की की विदाई के समय दहेज में दिया था, इसके बावजूद उसके ससुराल के लोग अंजुम को प्रताडि़त करते हुए और दहेज लाने की मांग करने में बाज नहीं आये.

अंजुम ने अपने मायके वालों को तकलीफ होगी सोचकर  इस बात की जानकारी उन्हें नहीं दी और पति की प्रताडऩा सहती रही. थाने पर मुकदमा दर्ज कराने के बाद अंजुम ने बताया कि ससुराल के लोग उसे तरह-तरह से प्रताडऩा देते थे.

डेढ़ लाख रुपए नकद की मांग करते थे. इसी बात को लेकर उसे मारते और पिटते भी थे. जब मायके से फोन पर बात की जाती तो उसको डरा-धमकाकर हां या ना में ही जवाब देने पर मजबूर किया जाता था. इस बीच 29 जुलाई 2019 को उसकी एक पुत्री पैदा हुई. इससे और ज्यादा नाराज होकर ससुराल पक्ष उस पर और सितम ढाने लगे.

यही नहीं नवजात बच्ची के साथ ही उसका गला दबाने की भी कई बार कोशिश की गई. किसी तरह इस बात की जानकारी रिश्तेदारों के माध्यम उसके पिता ताज मोहम्मद को हुई तो पिता अपने रिश्तेदारों के साथ 18 अगस्त को उसके घर विदाई कराने पहुंच गये. पिता के साथ भी ससुराल पक्ष ने अभद्र व्यवहार करना शुरू कर दिया. पिता और रिश्तेदारों के बार-बार समझाने के बावजूद भी बात नहीं बनी तो उसके पिता उसे अपने साथ मायके ले जाने लगे.

इसी दौरान पति ने अभद्र व्यवहार करते हुए सबके सामने ही तीन बार तलाक, तलाक, तलाक कहकर उसे घर से बाहर धकेल दिया. यही नहीं पति के साथ ससुराल के अन्य लोगों ने उसके हाथ से झोले को छीन कर सिर्फ तीन कपड़ों के साथ ही घर से भगा दिया. वह पिता के साथ अपने मायके जाना बाजार चली आई और इसकी शिकायत सुबह हैदरगंज थाने में की. पुलिस ने इस प्रकरण को महाराजगंज थाने का मामला बताकर वहां भेज दिया.  इस बीच वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी के आदेश पर हैदरगंज थाने की पुलिस ने ताज मोहम्मद के घर पहुंचकर महिला की लिखित तहरीर पर पति इश्तियार अहमद, ससुर गुलाम अहमद, सास साबिया, ननद गुलप्ता बानो, देवर नसीम और वसीम के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है.  इस संबंध में कार्यवाहक प्रभारी थानाध्यक्ष दिवाकर कुमार ने बताया कि पीडि़ता की तहरीर पर पति समेत परिवार के छह लोगों पर विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी गई है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...