Breaking News:

पत्थरबाज़ों से निपटने के लिए भारतीय सेना का अनोखा तरीक़ा, जीप के आगे बांधा कश्मीरी युवक

श्रीनगर : जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में हुई घटना का एक वीडियो जम्मू एक उपराष्ट्रपति द्वारा वायरल किया गया है और इसके साथ ही उमर अब्द्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा है की इस नौजवान को जीप के आगे बांधा गया, ताकि कोई आर्मी पर पथराव न कर सके, ये हैरान करने वाला है। इस घटना का वीडियो भी वायरल हो रहा है।

बता दें कि 9 अप्रैल को श्रीनगर लोकसभा सीट पर इलेक्शन हुए थे। वोटिंग के दौरान कई पोलिंग बूथ पर हिंसा हुई थी। ऐसा कहा जा रहा है कि ये घटना इसी दिन की है। यह जीप आर्मी के काफिले के सबसे आगे चल रही थी। साथ ही बताया जा रहा है कि खुद आर्मी के एक जवान ने यह बात कही कि व्यक्ति एक प्रदर्शनकारी है बहुत ज्यादा पत्थरबाजी हो रही थी जिसके कारण इसका शिल्ट की तरह उपयोग करना पढ़ा।

इस घटना से नाराज़ हो कर घाटी के कई लोगों ने गुस्सा जताया है। श्रीनगर में इलेक्शन में प्रदर्शनकारियों ने जमकर हंगामा किया था। इसके चलते यहां सिर्फ 7 फीसदी वोटिंग हुई थी। इसके बाद बुधवार को इलेक्शन ड्यूटी के लिए जाते सीआरपीएफ जवानों के साथ हाथापाई और बदसलूकी का वीडियो सामने आया। कुछ प्रदर्शनकारी वापस लौटने के लिए कहते दिखे थे। जवानों को लात-घूंसे भी मारे गए, लेकिन जवान शांत रहे।

इसके साथ ही उमर अब्दुल्ला के पिता फ़ारुक़ अब्दुल्ला ने पत्थरबाजो का पक्ष लेते हुए कहा कि पत्थर फेंकने वाले भूखों मरेंगे, लेकिन अपने वतन के लिए पत्थर फेंकेंगे, वे कश्मीर मुद्दे के हल के लिए अपनी जान दे रहे हैं, हमें इसे समझने की जरूरत है और साथ ही शुक्रवार को कहा कि सभी पत्थर मारने वाले व्यक्ति एक जैसे नहीं होते क्या पता कुछ लोगो को सरकार द्वारा पैसे दिए गए हो ताकि वह घर से बाहर आ कर वोट नहीं दे पाए सभी को एक जैसा नहीं समझे।

वहीं, कश्मीरी यूथ द्वारा एक CRPF जवान को पीटे जाने का वीडियो वायरल होने पर फारूख ने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण है, ऐसा नहीं होना चाहिए था। मैं उस सीआरपीएफ जवान का शुक्रगुजार हूं जिसने किसी प्रकार की प्रतिक्रिया नहीं की। उसने शांति बनाए रखी, जो अच्छी बात है।”

Share This Post