पहले महिला एंकर को दी गालियां, अब हिन्दुओ के आराध्य महादेव का अपमान ..नारी विरोधी विधायक के समर्थन में उतरी आप पार्टी ने गालीबाज को घोषित किया भगवान शिव.. आक्रोशित हुआ सन्त समाज

ये उन लोगों के लिए अप्रत्याशित था जो आम आदमी पार्टी के व्यवहार से बेहतर ढंग से परिचित नहीं थे.. जो भी अरविंद केजरीवाल व सोमनाथ भारती के पहले के इतिहास से परिचित नहीं थे उनके लिए ये सब होना हैरान कर देने वाला था क्योंकि उन्होंने भ्र्ष्टाचार व अन्याय से लड़ते एक व्यक्ति की छवि अपने मन में बना रखी थी..

पहले अरविंद केजरीवाल के दाएं हाथ के रूप में विख्यात सोमनाथ भारती ने सुदर्शन न्यूज की एंकर के साथ भद्दी भद्दी गालियों से बात की उसके बाद अरविंद केजरीवाल का इशारा पाते ही आप पार्टी के तमाम सोशल व बड़े चेहरे मैदान में पहले अपनी पत्नी को प्रताड़ित करने वाले , फिर अफ्रीकन महिलाओं को तंग करने वाले व आखिर में लाइव डिबेट में सुदर्शन न्यूज एंकर को बेहद अपमानित करने वाले शब्द बोलने वाले घोर नारी विरोधी छवि वाले सोमनाथ भारती के समर्थन में खड़े हो गए .. यहां तक कि उन्होंने पत्नी को कुत्ते से कटाने वाले व्यक्ति की तुलना मोदी की पत्नी यशोदाबेन तक से करनी शुरू कर दी, जिनकी स्थिति में जमीन आसमान का अंतर है ..

इसमें सबसे पीड़ा का विषय रहा आप पार्टी के महिला चेहरों का नारी विरोधी रवैया ..कभी पति केजरीवाल के समर्थन में भगवान तक की दुहाई देने वाली सुनीता केजरीवाल जी तक ने इस बार कोई ट्वीट नहीं किया ..आप पार्टी की ही विधायक अलका लांबा ने तो खुलेआम सोमनाथ भारती को भगवान शिव का रूप बताते हुए सोमनाथ भारती के खिलाफ बोलने वाले हर व्यक्ति को भगवान शिव के खिलाफ खड़ा व्यक्ति घोषित कर डाला..उनके एक ट्वीट के अनुसार सोमनाथ भारती का नाम महादेव शिव के नाम पर है इसलिए सोमनाथ भारती के खिलाफ खड़ा हर व्यक्ति महादेव शिव के खिलाफ खड़ा है .. सोमनाथ भारती जैसे असभ्य, नारी विरोधी, गालीबाज व्यक्ति को परम कल्याणकारी, दयालु व अर्धनारीश्वर रूप में पूजे जाने वाले महादेव शिव के रूप में बताने से सन्त समाज आहत है और अब इस मामले ने एक नई करवट ली है. अयोध्या, मथुरा व काशी के साधु संतों में जबरदस्त आक्रोश देखने को मिल रहा है जो जल्द ही व्यापक रूप में वर्तमान समय मे आप पार्टी के खिलाफ आक्रोशित महिलाओं की ही तरह सतह पर बाहर आने की संभावना जताई जा रही है .. कुछ सन्तो का कहना है कि महादेव शिव के ओमान को प्रयाग के कुम्भ में उठाया जाएगा व कुछ सन्तो ने अलका लांबा के खिलाफ केस करने की बात कही है .. एक नारी के विरोध से शुरू आप पार्टी अब देवी देवताओं के विरोध तक पहुच चुकी है जो किसी भी हालत में समाज की शांति के लिए उचित नही है ..

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW