Breaking News:

बाबर के पैरोकार इकबाल को पीटने वाली वर्तिका ने क्या छोड़ दिया था उसे ? अब उठाया एक नया कदम

अयोध्या में श्रीरामजन्मभूमि पर बाबरी मस्जिद की पैरोकारी करने वाले इकबाल अंसारी को पीटकर सोशल मीडिया की सनसनी बनी अंतर्राष्ट्रीय शूटर वर्तिका सिंह इकबाल अंसारी को सबक सिखाने के मूड में है. खबर के मुताबिक़, अंतरराष्ट्रीय निशानेबाज वर्तिका सिंह ने  अब इकबाल अंसारी को कानूनी तौर पर तारे दिखाने की तैयारी कर ली है. वर्तिका सिंह ने अंसारी के खिलाफ देशद्रोह समेत अन्य कई गंभीर आरोप लगाते हुए न्यायिक मजिस्ट्रेट देवेंद्र प्रताप सिंह की अदालत में अर्जी दी है. कोर्ट ने थाने से आख्या तलब करते हुए सुनवाई के लिए शुक्रवार की तारीख नियत की है.

गौरतलब है कि तीन सितंबर को वर्तिका और इकबाल के बीच नोकझोंक, धमकी व अभद्रता का मामला सुर्खियां बना था. मामले में अंतरराष्ट्रीय निशानेबाज वर्तिका सिंह की पैरवी करने आईं सुप्रीम कोर्ट की अधिवक्ता संगीता सिंह व अदालत में दी गई अर्जी के मुताबिक प्रतापगढ़ जिले के अंतू थाना क्षेत्र के रायचंदपुर निवासी वर्तिका सिंह बीते 3 सितंबर को लखनऊ से अपने ममेरे भाई प्रभु दयाल सिंह के साथ रामजन्मभूमि के दर्शन के लिए आईं थीं. जहां राम मंदिर निर्माण के संबंध में कुछ लोगों से चर्चा हुई.

वर्तिका सिंह के अनुसार, इस दौरान कुछ लोग उसे इकबाल अंसारी के घर ले गये. वहां दोपहर में 1 बजे इकबाल से मुलाकात हुई. उनके यहां तीन महिलाएं व एक लड़का था. उनके सुरक्षाकर्मी भी मौजूद थे. इकबाल अंसारी से वर्तिका ने कहा कि चाचा हम मंदिर-मस्जिद के लिए आपस में क्यों लड़ते हैं, यह तो ऊपर वाले को याद करने के लिए होता है. तब अंसारी ने कहा कि देश के पीएम नरेंद्र मोदी व यूपी के सीएम सत्ता में बने रहने के लिए राजनीति कर रहे हैं. लोगों को गुमराह कर रहे हैं. इनके अंदर इतना दम नहीं है कि यहां पर यह राम मंदिर बनवा सकें, क्योंकि यह लोग मुसलमानों से बहुत डरते हैं.

आरोप है कि इकबाल ने देश के कानून को लेकर अपशब्द कहते हुए कहा कि राम मंदिर पर कोई अदालत फैसला नहीं सुना सकती. अगर कानून ने राम मंदिर का फैसला सुना दिया तो पाकिस्तान के लोगों को बुलवाकर देश के एक-एक लोगों पर गोली चलवा दूंगा और अयोध्या को दूसरा पाकिस्तान बना दूंगा. बाबर का पैरोकार अंसारी यहीं नहीं रुका बल्कि उसने आगे कहा कि अयोध्या ही नहीं 3 साल में भारत को पाकिस्तान न बना दिया तो, मुल्ले की औलाद नहीं.

वर्तिका की अर्जी में कहा गया है कि वर्तिका ने उन्हें देश का अच्छा नागरिक होने का हवाला देते हुए सही बर्ताव करने को कहा तो वह गुस्से में आकर खड़े हो गये और कहा कि तुम हमारी औकात के बारे में नहीं जानती हो. न ही इस देश को पता है. मैं दूसरे मुल्कों से इस देश पर हमला करवा सकता हूं और तुम्हें भी शूटरों से मरवा सकता हूं. भगवान राम को अपमानित करने वाले कई शब्द उन्होंने कहे इसके बाद घर की महिलाएं और वहां मौजूद लड़के ने वर्तिका से चिपकने की कोशिश की.

वर्तिका की अर्जी पर कोर्ट में सुनवाई के बाद मामले में थाना राम जन्मभूमि से आख्या तलब की गई है. वर्तिका सिंह ने अपनी अर्जी में इकबाल अंसारी, तीन महिलाएं व एक लड़के तथा एक साजिशकर्ता (जो उन्हें इकबाल अंसारी के घर तक ले गया) के खिलाफ एफआईआर दर्ज करके विवेचना करवाने और खुद के लिए सुरक्षा मुहैया कराने की प्रार्थना की है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW