नुसरत जहाँ एक बार फिर से मजहबी कट्टरपंथियों के निशाने पर.. आखिर क्या कहा इस बार उन्होंने ?

बंगाली अभिनेत्री तथा तृणमूल कांग्रेस की सासंद नुसरत जहाँ एक बार फिर से मजहबी कट्टरपंथियों के निशाने पर आ गई हैं. इस बार मजहबी कट्टरपंथियों ने हिन्दुओं का पावन त्यौहार हरियाली तीज मनाने के कारण नुसरत जहाँ को आड़े हाथों लेते हुए उनकी आलोचना की है. नुसरत जहाँ के हरियाली तीज मनाने से भड़के इस्लामिक कट्टरपंथियों ने उनको मुसलमान मानने से ही इंकार कर दिया है.

बता दें कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस की लोकसभा सांसद नुसरत जहां ने जैन धर्मावलम्बी और कोलकाता के बड़े कपड़ा व्यापारी निखिल जैन से हाल ही में शादी की है. 19 जून को हुई इस शादी के बाद वे अपने ससुराल के कई रीति-रिवाज निभा रही हैं. इसी शृंखला में उन्होंने 3 अगस्त, 2019) को हुई सिंधारा तीज, जिसे हरियाली तीज भी कहते हैं, पर यह त्यौहार मनाते हुए अपनी और अपने पति की तस्वीर इंस्टाग्राम पर शेयर कीं.

हरियाली तीज मनाते हुए नुसरत जहाँ की फोटो देखते ही भड़के इस्लामी कट्टरपंथियों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया। किसी ने पूछा कि वे हिन्दू हैं या मुस्लिम, तो किसी ने कहा कि मुसलमान होकर हिन्दुओं की तरह सिन्दूर लगाती हैं, इसलिए उसे (यूज़र को) नुसरत पर शर्म आती है. किसी ने पूछा कि वे इस्लाम का पैगाम भूल गईं क्या? मुफ़्ती शरीफ खान ने तो उन्हें इस्लाम से ही खरिज करते हुए कह दिया कि केवल मुसलमान नाम रखने से कोई मुसलमान नहीं हो जाता है. इसके पहले भी बरेलवी मसलक के उलेमा बशीरहाट की सांसद नुसरत जहां को इस्लाम से ख़ारिज कर चुके हैं.

Share This Post