बिहार मुजफ्फरपुर की वीडियो वायरल हो रही UP के बदायूं की बता कर, और उसे सही मान कर UP पुलिस भी दे रही है जवाब

एक बार फिर से उत्तर प्रदेश में अफवाह का बोलबाला है और उस अफवाह के दायरे में खुद पुलिस वाले आते दिखाई दे रहे हैं . बदायू जनपद में कांवडियो पर हमले का एक वीडियो सोशल मीडीया पर बुरी तरह से वायरल हो रहा है जिसमे बाकायदा उत्तर प्रदेश पुलिस , बदायूं पुलिस और खुद UP 100 को टैग किया गया है.. इस वीडियो को कई स्थानों पर शेयर किया जा रहा है जिस पर बाकायदा उत्तर प्रदेश की बदायूं पुलिस का ट्विटर हैंडल और UP 100 का ट्विटर हैंडल जवाब भी दे रहा है ..

लेकिन जब सुदर्शन न्यूज ने इस वीडियो की पड़ताल की तब मामला कुछ और ही निकला जिसको सामने लाना बेहद जरूरी था… जानिए इस मामले में किस आधार पर की गई पड़ताल . वायरल हो रहे वीडियो में एक वाहन पर कुछ मुस्लिमों ने हमला किया है और उसका लाऊड स्पीकर अदि निकाल कर तोड़फोड़ कर रहे हैं . कुछ लोग चीख चिल्ला रहे हैं और बगल से डरी सहमी महिलाएं गुजर रही हैं . जब सुदर्शन न्यूज ने इस वाहन पर लिखे नम्बरों पर फोन मिलाया तो ये नम्बर बिहार के मुजफ्फरपुर जिले का निकला .

वाहन स्वामी ने बताया कि उसके वाहन पर पथराव जरूर हुआ है लेकिन ये घटना मुजफ्फरपुर जिले के कांटी थाना क्षेत्र की है . वाहन स्वामी का नाम लाखेंद्र राजमिस्त्री है और वो वाहन शुभंकरपुर गाँव का है . वाहन पर लिखा नंबर 6204466358 है . जब सुदर्शन न्यूज ने इस खबर की सत्यता के लिए अपने मुजफ्फरपुर संवाददाता विकास कुमार  से सम्पर्क किया तो वहां पुष्टि हुई कि ये घटना वहां घटी है और वहां के जिलाधिकारी आलोक रंजन , और SSP भारी फ़ोर्स के साथ मौके पर मौजूद हैं . अतः सुदर्शन न्यूज   की जनसामान्य से अपील है कि वायरल हो रहे वीडियो की सच्चाई बदायूं जनपद से जुडी नहीं है और ये वीडियो बिहार के मुजफ्फरपुर में आज ही घटी घटना का है . संभव है कि बदायूं में भी ऐसी कोई घटना घटी हो लेकिन ये वीडियो मुजफ्फरपुर बिहार का है ..

 

देखिये वायरल किया जा रहा वो वीडियो और उस पर बदायूं पुलिस और UP 100 का जवाब –

 

रिपोर्ट –

राहुल पाण्डेय 

सहायक संपादक – सुदर्शन न्यूज 

नॉएडा मुख्यालय 

मोबाइल – 9598805228

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW