Breaking News:

सेकुलर परिवार की कीर्थना देवी बन गई फातिमा और अदालत में खींच लिया अपने ही उन माता पिता को जिन्होंने उसे सिखाया था कि – “आपस में सब भाई – भाई”

एक और हिन्दू परिवार जिसने बचपन से ही अपने बच्चो को धर्मनिरपेक्षता की शिक्षा दी थी वो अब मजहबी कट्टरता क्या है इसको देख रहा है.. एक बेटी जिसको बचपन से ही माता पिता ने हर वो ख़ुशी और छूट दी जिसको वो चाहती थी अब वही उनको अदालत में खींच रही है और धर्मनिरपेक्ष हिन्दू माता पिता को धर्म पर लम्बी चौड़ी नसीहत दे रही है . इस से पहले इसी तमिलनाडु में हादिया नाम की हिन्दू लडकी इस्लाम कबूल की थी तब भी ऐसे ही कुछ हुआ था ..

हादिया मामले की पुनरावृत्ति उस समय फिर से हुई है तमिलनाडु में जहाँ पर एक और हिन्दू लड़की ने इस्लाम कबूल कर लिया और अब कीर्थना देवी बन गई हैं जैनब फातिमा .. अब तक मीडिया रिपोर्ट्स से मिल रही जानकारी के अनुसार उस हिन्दू लड़की के धर्मनिरपेक्ष माता पिता ने उसको इतनी छूट दी थी कि उसको बाकायदा इस्लाम पर रिसर्च करने के लिए प्रेरित किया.. लड़की द्वारा इस्लाम पर रिसर्च करने की घटना को वो सेक्युलर परिवार समाज में एक उपलब्धि के तौर पर गिनाता था..

इसी रिसर्च के दौरान ही वो लडकी तमाम मुस्लिम मौलाना , उलेमा और मौलवियों के सम्पर्क में आई . फिर धीरे धीरे वो उसके संगति के असर के चलते इस हद तक आ गई कि उसने बाकायदा घोषणा कर दी इस्लाम कबूल करने की.. जब इस बात की जानकारी लडकी के परिवार वालों को हुई तो उनकी धर्मनिरपेक्ष सोच पर गहरा आघात हुआ और वो अपनी बेटी को मनाने लगे .. लेकिन उनकी एक भी दलील मौलानाओं या मौलवियों के बताई बातो के ऊपर नहीं जा पाई ..

आख़िरकार लडकी ने ही उन माता पिता को कानूनी सबक सिखाने की तैयारी कर ली और उस सेक्युलर परिवार की मुस्लिम बनी लडकी ने सुरक्षा की मांग के लिए मद्रास उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया और आरोप लगाया कि उसके माता-पिता उसे इस्लाम अपनाने के लिए जान से मारने की धमकी दे रहे हैं. इतना ही नहीं उसने अपने माता पिता के खिलाफ पुलिस महानिदेशक और नगर आयुक्त तक को पत्र भेजा है और कहा है कि उसके माता पिता के खिलाफ पुलिस सख्त एक्शन ले..

इस मामले में अब तक मुस्लिम संस्था की तरफ से जो नाम सामने आ रहा है वो है जामियाथ्युल अहलिल कुरान वल हदीस (JAQH). बताया जा रहा है कि लड़की को कानूनी लड़ाई लड़ने का पैसा, उसको रहना खाना आदि अभी यही संस्था उपलब्ध करवा रही है .. सेक्युलर हिन्दू परिवार का कहना है कि उसकी बेटी को बहला फुसला कर मुसलमान बना दिया गया है. वो हिन्दू परिवार अब पुलिस से ले कर  अदालत तक अपनी ही बेटी के दिए गये शिकायत पत्रों का सामना करते हुए अपनी बेटी को वापस दिलाने की गुहार लगा रहा है..

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW