एक और राज्य बन रहा दूसरा कश्मीर.. एक उत्तर में तो दूसरा पूरब में… आखिर कौन सा है वो राज्य?

लंबे समय से हिंदुस्तान की सबसे बड़ी समस्या अगर कोई है तो वो निश्चित रूप से कश्मीर में होने वाली देशविरोधी गतिविधिया हैं. जिस तरह से कश्मीर में होने वाली देशविरोधी गतिविधियाँ देश के लिए बड़ा नासूर बन चुकी हैं, ठीक उसी तरह कश्मीर की राह पर एक और राज्य चल पड़ा है. जो एक और राज्य कश्मीर बनने की राह पर है वो पूर्वोत्तर का भारतीय जनता पार्टी शासित राज्य असम.

जी हाँ, असम के वित्तमंत्री तथा भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता हिमंत बिस्वा शर्मा ने दावा किया है कि असम देश का कश्मीर बनने की राह पर है. असम में भारतीय जनता पार्टी नीत सरकार में मंत्री हिमंत विश्व शर्मा ने कहा है कि अगर नागरिकता विधेयक को पारित नहीं किया गया तो असम भी कश्मीर की दिशा में मुड़ जाएगा. हिमंत शर्मा ने कहा कि नागरिकता विधेयक पारित होने का मतलब उन सात-आठ लाख बंगाली हिंदुओं को नागरिकता हासिल होगी है, जो पहले से ही राज्य में निवासरत हैं.

हिमंत बिस्वा शर्मा ने कहा कि यही आठ लाख लोग राज्य विधानसभा के करीब 16-17 सीटों के परिणाम को प्रभावित करेंगे, जो यहां के मूल निवासी लोगों के पक्ष में रहेगा. लेकिन अगर इन्हें वापस भेज दिया गया तो सभी सीटें बंगाली मुस्लिमों के हाथ में चली जाएगी. उन्होंने कहा कि राज्य में असमी लोगों की संख्या केवल 27 प्रतिशत हैं. इन असमियों को बंगाली हिन्दुओं और हिंदीभाषी लोगों के साथ ही राज्य में रह रहे नेपाली लोगों के समर्थन की दरकार है. मुस्लिम आबादी में बढ़ोत्तरी से राज्य की जनसांख्यिकी तेजी से बदल रही है और यहां के मूलनिवासी लोगों के लिए ये एक बड़े खतरे से कम नहीं है.

हिमंत बिस्वा शर्मा ने कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक पास होने से बांग्लादेश, अफगानिस्तान तथा पाकिस्तान से प्रताड़ित होकर आने वाले गैर-मुस्लिमों अर्थात हिन्दू, ईसाई, जैन, सिख, बौध, पारसी आदि को भारतीय नागरिकता मिलेगी. उन्होंने कहा कि ऐसा होना असम के लिए बहुत जरूरी है क्योंकि अगर ऐसा नहीं हुआ तो असम की 16-१७ सीटें बदरुद्दीन अजमल के कब्जे में चली जायेंगी. उन्होंने कहा कि जैसे जैसे अजमल की ताकत बढ़ेगी तो कश्मीर बन जाएगा. उन्होंने कहा असम को बचाने के लिए नागरिकता संशोधन विधेयक का लाया जाना बेहद जरूरी है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW