अब रिटायरमेंट के बाद होगी 5000 तक की इनकम, हर महीने जमा करे सिर्फ 42 रूपए..

अटल पेंशन योजना असंगित क्षेत्र से जुड़े लोगों को ध्यान में रखकर बनाई गई थी. यह बिमा और पेंशन सेक्टर की एक सामाजिक सुरक्षा योजना है जिसे सरकार द्वारा देश के सभी नागरिको को 1000 रूपए से लेकर 5000 तक पेंशन मुहैया कराने के लिए लांच किया गया था.

गौतस्करी की गाड़ियों में अब भरे हुए हैं पत्थर.. सब इंस्पेक्टर सुर सिपाही पर कश्मीरी अंदाज में पत्थरबाजी

यह योजना पीऍफ़आरडीए द्वारा कि जाती है. इस योजना में पेंशन मुहैया कराने की गारंटी देता है. कोई भी भारतीय नागरिक जिसकी उम्र 18 से 40 साल तक के बिच में है वह इस योजना में शामिल हो सकता है.

अगर कोई भी व्यक्ति इस योजना में 18 साल के उम्र में शामिल होता है तो उसे 1000 से 5000 रूपए के बिच की फिक्स्ड मासिक पेंशन पाने के लिए42 रूपए से लेकर 210 रूपए मासिक मासिक योगदान देना पड़ेगा, वही दूसरी तरफ अगर कोई 40 साल तक का व्यक्ति इस योजना में शामिल होता है तो उसे 291 से 1454 रूपए प्रतिमाह तक मानसिक योगदान देना होगा.

प्रख्यात अभिनेत्री शामिल हुई भाजपा में.. पश्चिम बंगाल में परिवर्तन की लहर

अटल पेंशन योजना  में कोई भी भारतीय निवेश शुरू कर सकता है. अटल पेंशन योजना  में भाग लेने के लिए आपका बैंक खाता होना जरूरी है. इस बिमा में खाता खोलने के लिए इसे आधार कार्ड से जुड़ा होना भी जरूरी है. अटल पेंशन योजना का लाभ उन्हीं लोगों को मिल सकता है जो इनकम टैक्स स्लैब से बाहर हैं.

शिवभक्त कांवड़ियों पर खुद फूल बरसाएंगे सीएम योगी आदित्यनाथ.. कभी बंद किये जाते थे भजन और कीर्तन

अटल पेंशन योजना  में निवेश से रिटायर होने के बाद आप हर माह पेंशन पाने के हकदार हो सकते हैं.  योजना की सबसे बड़ी खासियत यह है कि अगर आपकी असामयिक मृत्यु हो जाती है तो आपके परिवार को फायदा जारी रखने का प्रावधान है. अटल पेंशन योजना  में निवेश करने वाले व्यक्ति की मृत्यु होने पर उसकी पत्नी और पत्नी की भी मृत्यु होने की स्थिति में बच्चों को पेंशन मिलने का प्रावधान है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

Share This Post