हरियाणा में गोलियों से भून दिया गया गौ रक्षक.. गोली लगी होने के बाद भी खुद चल कर पंहुचा था घर. अलविदा गोपाल

उसको अपनी राह का सबसे बड़ा काँटा मानते थे गौ हत्यारे . उसको हटाने के बाद उनके करोडो के हाड मांस के कारोबार में तेजी आनी तय थी . उसको मार डालना ही उन्हें अपना अंतिम विकल्प लगा . उसको भी पता था कि उसकी हत्या कभी भी हो सकती है लेकिन उस पर जूनून था गौ माता को बचाने का और यही जूनून अब उसको ले कर गया है वीरगति के पथ पर.. कर्नाटक के प्रशांत पुजारी के ही अंदाज़ में अब पलवल में एक और नामी गौरक्षक पा चुका है वीरगति गौ हत्यारों के हाथो से .

मनोहर लाल खट्टर शासित हरियाणा के पलवल में एक शख्स की गोली मारकर हत्या कर दी गई. मृतक गो रक्षक दल का सदस्य था. ये वो क्षेत्र था जहाँ मुस्लिम बहुल इलाके मेवात के लिए गौ वंश की लगातार तस्करी हो रही है जिसको रोक पाना पुलिस के लिए भी सम्भव नहीं हो पा रहा . मृतक का नाम गोपाल बताया जा रहा है. वह होडल थाना क्षेत्र के गांव सोंदहद का रहने वाला था. यह घटना सोमवार शाम 7:30 बजे की बताई जा रही है. अपने घर के चिराग की हत्या से चीखते इस परिवार का आरोप है कि गोपाल गो तस्करों का पीछा कर रहा था.

पुलिस अपनी जांच में लगी है लेकिन बताया जा रहा है कि गोपाल गो रक्षक दल से जुड़ा था. वह इससे पहले भी कई गायों को तस्करों से छुड़वाया था. उसे सोमवार को सूचना मिली कि कुछ लोग गाय की तस्करी कर रहे हैं. इसके बाद गोपाल मौके पर पहुंचा तो तस्करों ने उसे गोली मार दी. गोली लगने से गोपाल घायल हो गया जिसके बाद उसकी मौत हो गई. उसकी गायो के प्रति श्रद्धा और समर्पण के चलते ही उसका नाम गोपाल था .. इस दुस्साहस के बाद इलाके में तनाव की खबरें है ..

इस मामले में सबसे ख़ास पहलू ये है कि गौ हत्यारों को एक थप्पड़ तक लग जाने को राष्ट्रीय आपदा बना देने वाली वो खास गैंग एक गौ रक्षक की हत्या पर खामोश बैठी है . न ही किसी को डर लग रहा है और न ही किसी ने इंसान की जान सबसे ऊपर की दुहाई दी है . यहाँ तक कि निंदा का एक ट्विट भी करना ठीक नहीं समझा जा रहा उस विशेष गैंग द्वारा .. यह घटना सोमवार शाम 7:30 बजे की बताई जा रही है। मृतक के शव को पलवल के अस्पताल में रखा गया है जहां पर तनाव की स्थिति है। जानकारी के अनुसार, अस्पताल के बाहर भीड़ जमा है।

गोली लगी होने के बाद भी ३४ साल का गोपाल खुद बाइक चलाता हुआ अपने घर पंहुचा और ये बताया कि उसको गौ तस्करों ने गोली मार दी .. इतना कह कर वो बाइक पर बेहोश को कर गिर पड़ा . उसको घर वाले अस्पताल ले गये जहाँ उसने वीरगति प्राप्त कर ली .. अस्पताल के बाहर पुलिस तैनात है। फिलहाल स्थिति पुलिस के नियंत्रण में है। मामले की जांच की जा रही है। आरोपितों की धरपकड़ की कोशिश की जा रही है। इससे पहले अप्रैल 2016 में रेवाड़ी में गो-तस्करों ने गाड़ी से कुचल कर एक सिपाही की हत्या कर दी थी।

Share This Post