अर्बन नक्सल और जातिवादी दंगाइयों का सीधा रिश्ता मिला इस्लामिक आतंकियों से.. पुणे पुलिस ने खोला सनसनीखेज राज

भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में गिरफ्तार अर्बन नक्सलियों के खिलाफ पुणे पुलिस की रिपोर्ट में सनसनीखेज खबर सामने आई है. पुणे पुलिस की रिपोर्ट के अनुसार, भीमा कोरेगांव हिंसा में गिरफ्तार अर्बन नक्सली गौतम गौतम नवलखा के कश्मीर में इस्लामिक आतंकी दल हिजबुल मुजाहिदीन से संबंध बताया गया है. रिपोर्ट में कहा गया है कि आरोपी गौतम नवलखा का हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकियों से संबंध था. पुणे पुलिस ने बुधवार को अर्बन नक्सल मामले में अपनी ये रिपोर्ट दाखिल की है.

अब सुरेश चव्हाणके जी की जनसंख्या नियंत्रण पर उठाई आवाज दोहराई गई गुजरात में.. भाजपा विधायक ने कहा- “हम 2 हमारे 12 की सोच से बाहर आयें मुसलमान”

पुणे पुलिस की रिपोर्ट के मुताबिक, हिज्बुल मुजाहिदीन से जुड़े होने की रिपोर्ट अर्बन नक्सल के आरोपी रोना विल्सन के लैपटॉप से बरामद की गई है. रिपोर्ट में गौतम नवलखा को ‘जीएन’ नाम दिया गया है जो कश्मीर के कई अलगाववादियों और हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर्स के संपर्क में था. अर्बन नक्सल से जुड़ी यह रिपोर्ट 2013 में लिखी गई है जिसमें कहा गया है कि गौतम नवलखा ने कश्मीर के कई दौरे किए और शकील बख्शी नाम के एक हिज्बुल कमांडर से मुलाकात की.

टाडा और पोटा से भी कहीं ज्यादा कड़ा है “एंटी टेरर बिल” .. अमित शाह ने समझी समय की मांग

गौतम नवलखा परवेज खान नाम के एक शख्स के संपर्क में था जो पहले हिज्बुल मुजाहिदीन का कमांडर था और बाद में डबल एजेंट बन गया. पुणे पुलिस की रिपोर्ट में कहा गया है कि गौतम नवलखा नक्सलियों की तरफ से हथियारों की अदला बदली और खुफिया सूचना के लिए हिज्बुल कमांडर से मिले. नवलखा ने परवेज खान को दिल्ली में माओवादी कमांडर से मिलने के लिए भेजा था लेकिन बाद में माओवादी फैक्ट फाइंडिंग टीम को पता चल गया कि खान डबल एजेंट है जो ज्बुल मुजाहिदीन माओवादियों से संपर्क बनाना चाह रहा था ताकि उनकी मदद से म्यांमार बॉर्डर तक पहुंच सके और अपने हथियार सुरक्षित कर सके.

#WorldIVFDay पर विशेषज्ञ डाक्टर अनुष्का मदान से जानिये कि निसंतान दम्पति के लिए ये कैसे है वरदान

पुणे पुलिस की रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि गौतम नवलखा कई बार सरकार के लिए और माओवादियों के खिलाफ काम कर रहे थे. उन्होंने कई दफे माओवादी आंदोलन के खिलाफ आवाज उठाई और उन्हें यूपीए सरकार के प्रस्ताव मानने के लिए बाध्य किया. रिपोर्ट में गौतम नवलखा की मुलाकात सोनिया गांधी, बिनायक सेन की पत्नी इलेना सेन और चिदंबरम से होने की बात कही गई है. रिपोर्ट में माओवादी कैडर के विदेश में भी होने की बात बताई गई है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW