Breaking News:

जामा-मस्जिद के नीचे अगर हिन्दू देवी-देवताओं की तस्वीर न निकले तो मैं फांसी चढ़ने को तैयार.. भाजपा नेता के बयान के बाद करोड़ों निगाहें अयोध्या से दिल्ली की ओर

अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण को लेकर मचे राजनैतिक घमासान के बीच भारतीय जनता पार्टी के सांसद साक्षी महाराज के एक बयान पर राजनैतिक बवाल मच गया है. साक्षी महाराज ने अयोध्या में जल्द श्रीराम मंदिर निर्माण का पक्ष लेते हुए कहा कि अयोध्या, काशी, मथुरा की तो बात ही छोड़िये, दिल्ली की जामा मस्जिद को तोड़िए, अगर उसके नीचे भी हिन्दू देवी देवताओं की मूर्तियाँ न निकलें तो मुझे फांसी चढ़ा देना.

श्रीराम मंदिर मुद्दे पर कोर्ट में हो रही देरी को लेकर साक्षी महाराज ने कहा है, ‘मैं सुप्रीम कोर्ट की भर्त्सना करता हूं. तमाम अनावश्यक मामलों में सुप्रीम कोर्ट ने निर्णय दे दिए. लेकिन अयोध्या मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट टाल मटोल कर रहा है.’ उन्होंने कहा कि मैं आज से उल्टा सीधा नहीं बोलने लगा हूं. साक्षी महाराज ने कहा कि राजनीति में आने पर मेरा पहला स्टेटमेंट था ‘अयोध्या मथुरा काशी तो छोड़ो, दिल्ली की जामा मस्जिद को तोड़ो अगर सीढ़ियों के नीचे मुर्तियां न निकले तो मुझे फांसी पर लटका देना’ और आज भी मैं अपने इस बयान पर कायम हूं.

साक्षी महाराज ने कहा कि मुगलकाल में हिंदुओं के सम्मान के साथ खिलवाड़ किया गया, मंदिर तोड़े गए और मस्जिद बनाए गए. उन्नाव से सांसद साक्षी महाराज हमेशा ही अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं. राम मंदिर को लेकर साक्षी महाराज ने कहा कि अब बीजेपी सरकार से अपेक्षा है कि सोमनाथ की तर्ज पर लोकसभा में कानून बनाया जाए. लोकसभा चुनाव से पहले मंदिर निर्माण शुरू कर दिया जाए. चाहे सरकार को लोकसभा में अध्यादेश लाना पड़े या नरसिम्हा राव ने जो जमीन अधिग्रहित की, वो राम जन्मभूमि न्यास को देनी पड़े.

Share This Post

Leave a Reply