भाजपा सांसद जिग्नेश मेवाणी को कहा जानवर.. आगे और भी बहुत कुछ

जब भी चुनावों का मौसम रहता है विपक्ष जातीवाद के राजनिति पर उतारू हो जाता है और बीजेपी को घेरने लगता है.उज्जैन से बीजेपी सांसद डॉ चिंतामणि मालवीय ने अपनी फेसबुक पोस्ट में कांग्रेस समर्थित जिग्नेश मेवाणी पर निशाना साधते हुए भाषा की मर्यादा को भी लांघ दिया है. इस फेसबुक पोस्ट के बाद जब सांसद चिंतामणि मालवीय से बात की गई तो उन्होंने बताया कि जिस गंदी भाषा में जिग्नेश मेवाणी ने पीएम मोदी के लिए बयान दिया है, लोगों को उसपर आपत्ति होनी चाहिए ना कि उनके फेसबुक पोस्ट पर.

चिंतामणि मालवीय ने बताया कि उनके इस बयान को व्यक्तिगत समझा जाए क्योंकि पीएम मोदी के लिए जिस भाषा का इस्तेमाल जिग्नेश ने किया, उसका जवाब देने से वो खुद को रोक नहीं पाए. नवनिर्वाचित विधायक ने कहा था कि पीएम मोदी को अब रिटायर हो जाना चाहिए और उन्हें हिमालय पर चला जाना चाहिए. जिग्नेश के इस बयान ने राजनीति को गरमा दिया था.चिंतामणि ने कहा कि, भारत के गौरव को आप हिमालय पर हड्डी गलाने की राय दे रहे हैं?

क्या यही राय आपने अपने माता पिता को भी दी होगी? कहीं तुमने उनकी हड्डियां गला तो नहीं दीं? क्या यही राय तुमने राहुल गांधी को तो नहीं दे दी? वो सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह को हड्डी गलने के लिए हिमालय तो नहीं छोड़ आये? लगता है राहुल गांधी के इशारे पर यह बयान दिया गया है. फिर उनके कहने से माफी मांग कर नया नाटक किया जाएगा.चिंतामणि आगे लिखते हैं,’ क्या आप जवान उसे ही मानते हैं जिसकी आप जैसे नेताओं की तरह सीडी लॉन्च हो? दुनिया भर में भारत की गौरव पताका फहराने वाले मोदी जी के अनेकों उदाहरण हैं जो देश का जनमानस जानता है, पर तुम जैसे मंदबुद्धि गैंग के व्यक्ति को कोई बात समझ नहीं आ सकती?

Share This Post

Leave a Reply