भाजपा के कद्दावर नेता ने नोबेल जीते वामपंथी विचारधारा वाले अभिजीत बनर्जी पर दिया वो बयान जिसे घोषित किया जा रहा विवादित


भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक तथा वामपंथी विचारधारा वाले अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी को नोबेल पुरस्कार मिलने के बाद देश में राजनैतिक बयानबाजी शुरू हो गई है. अभिजीत के नोबेल को भारत के विपक्षी राजनैतिक दल सत्तारूढ़ बीजेपी तथा पीएम मोदी पर हमले के रूप में प्रयोग कर रहे हैं. ये जानने के बाद भी कि पीएम मोदी ने ने भी अभिजीत बनर्जी को नोबेल मिलने की बधाई दी थी, उनको मिले नोबेल पुरस्कार की आड़ में मोदी सरकार को निशाना बनाने की कोशिशें की गईं.

इसके बाद जब भारतीय जनता पार्टी के फायरब्रांड नेता तथा लोकसभा सांसद अनंत हेगड़े ने अभिजीत बनर्जी को लेकर एक ऐसा बयान दिया है, जिसे विवादित घोषित किया जा रहा है तथा उन पर निशाना साधा जा रहा है. बता दें, भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक अभिजीत बनर्जी वही शख्स हैं जिन्होंने लोकसभा चुनाव 2019 में कांग्रेस की न्यूनतम आय योजना (NYAY) स्कीम को बनाने में मदद की थी. ये वो स्कीम थी जिसका गुणगान कांग्रेस के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी हर रैली में करते थे.

अभिजीत बनर्जी को नोबेल पुरस्कार मिलने पर भाजपा सांसद अनंत कुमार हेगड़े ने उनपर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि वह(अभिजीत बनर्जी) ऐसे शख्स हैं जिन्होंने देश में महंगाई और कर की दरों को बढ़ाने की सिफारिश की थी. अनंत हेगड़े ने ट्वीट कर कहा कि, महंगाई बढ़ाने और पप्पू के माध्यम से कर की दरों में इजाफा करने की सिफारिश करने वाले अभिजीत बनर्जी को 2019 के नोबेल पुरस्कार के लिए चुना गया है.

हेगड़े ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी पर भी निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाधी ने लोकसभा चुनाव में अर्थशास्त्रियों का साथ लिया, अभिजीत बनर्जी उस टीम का हिस्सा थे जिसने कांग्रेस की न्यूनतम आय योजना को बनाने में कांग्रेस की मदद की. अनंत हेगड़े के इस बयान के इस बयान को विवादित बताते हुए विपक्ष उन पर हमलावर हो गया है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...