BJP का एलान- फिर सत्ता में आये तो ख़त्म होगा हलाला भी

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है. बीजेपी ने इस घोषणा पत्र को संकल्प पत्र नाम दिया है. अपने इस संकल्प पत्र में बीजेपी देश की जनता से तमाम वादे किये है.  ऐसा ही एक वादा है मुस्लिम समाज की महिलाओं को अंतहीन प्रताड़ना देने वाली कुरीति हलाला के खात्मे का. BJP ने एलान कर दिया है कि अगर वह फिर से सत्ता में आती है तो निकाह हलाला की प्रथा पर रोक लगाने के लिए कानून पारित करेगी.

मेरे खुद के परिवार के लोग प्रधानमंत्री रहे, पर देश को जो सम्मान मोदी ने दिलाया वो कोई नहीं दिला पाया- वरुण गांधी

ज्ञात हो कि मोदी सरकार पहले ही तीन तलाक को खत्म करने के लिए विधेयक ला चुकी है, हालांकि ये अभी तक राज्यसभा से पास नहीं हो पाया है लेकिन इस र अध्यादेश लागू है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारतीय जनता पार्टी मुस्लिम महिलाओं के लिए तीन तलाक प्रथा को खत्म करने की बात करती रही है. इसके लिए विधेयक लाया गया लेकिन राज्यसभा से पास न होने के कारण अध्यादेश लाया गया. लेकिन इस बार पार्टी की ओर से निकाह हलाला की बात भी की गई है.

क्या अम्बेडकर चाहते थे दलितों और मुसलमानों में एकता ? योगी आदित्यनाथ ने किया बड़ा खुलासा

अपने घोषणापत्र में भाजपा ने लिखा है, ‘हमने महिलाओं के संपूर्ण विकास और लिंग समानता को सुनिश्चित करने के लिए ठोस कदम उठाया है. हम तीन तलाक और निकाह हलाला जैसी प्रथाओं के उन्मूलन और उनपर रोक लगाने के लिए कानून पारित करेंगे.’ बीजेपी ने साफ़ कर दिया है कि वह कुप्रथा के नाम पर किसी भी मुस्लिम महिला की आबरू से खिलवाड़ नहीं होने देगी.

राहुल गांधी के करीबी और सेना के शौर्य पर सवाल उठाने वाले कांग्रेसी ने अब भारतीयों को कहा “बंदर”

मौजूदा मुस्लिम पर्सनल लॉ के प्रावधानों के मुताबिक अगर किसी मुस्लिम महिला का तलाक हो चुका है और वह उसी पति से दोबारा निकाह करना चाहती है, तो उसे पहले किसी अन्य शख्स से निकाह कर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाना होगा. फिर अन्य शख्स को तलाक भी देना होगा. इसके बाद ही वह अपने पहले शौहर के साथ रह सकेगी. इस पूरी प्रक्रिया को निकाह हलाला कहा गया है.

CBI ने बताई लालू की वो चाल जो उन्होंने इस चुनाव में सोच रखी है

Share This Post