खून के धब्बे साफ बता रहे हैं आतंकी सीमा पार से आए थे, अगर हिम्मत है तो एक्शन ले पाक सरकार

नई दिल्ली : पाकिस्तान की बेतुकी हरकतों से गुस्साए भारत के फॉरेन मिनिस्ट्री के स्पोक्सपर्सन गोपाल बागले ने कहा कि बलिदानी भारतीय सैनिकों के साथ बुरा व्यवहार पाकिस्तानी सेना द्वारा किया गया है जिसके हमारे पास सबूत भी है। जवानों के सिर काटे जाने की घटना से भारत का जो गुस्सा है उसे पाकिस्तान के हाईकमिश्नर अब्दुल बासित से छुपा नहीं है।

साथ ही उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है वो अपनी सरकार को इस बारे में बताएंगे। इस मामले में फॉरेन सेक्रेटरी एस जयशंकर ने बुधवार को अब्दुल बासित को तलब किया है। बागले ने कहा कि पाकिस्तान इस घटना में अपनी सेना के होने से इनकार कर रहा है। बता दें कि पाकिस्तानी आर्मी ने सोमवार को LoC पार की।

पुंछ में भारतीय इलाके में 250 मीटर अंदर तक घुसी पाक बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) ने आर्मी-बीएसएफ की पेट्रोल पार्टी पर हमला कर दिया। इसके बाद हमले में भारत के दो जवानों के सिर काट लिए। वीरगति को प्राप्त नायब सूबेदार परमजीत सिंह और शहीद बीएसएफ के हेड कॉन्स्टेबल प्रेम सागर का अंतिम संस्कार किया जा चुका है। इस उकसाने वाली घटना से गुस्साए गोपाल बागले ने एक प्रेस कांफ्रेंस कर कुछ अहम बाते बताई।

बागले ने कहा कि इस घटना को लेकर भारत में आक्रोश है। हमारे जवानों के अंग-भंग करने की घटना को लेकर देश में गुस्सा है। ये एक बर्बर हत्या है। पाकिस्तान के उच्चायुक्त को हमारे गुस्से के बारे में बता दिया गया है। भारत सरकार इस हरकत को सभ्यता के मापदंडों से परे समझती है। इस तरह की घटना उकसाने वाली है।

बागले का कहना है कि पाकिस्तानी सेना की ओर से हमारी तरफ गोलीबारी की गई उसे कवर करने के लिये भारतीय सेना द्वारा गोलीबारी की जा रही थी। हमारे जवानों के खून के सैंपल इकट्ठा किए गए हैं। रोजा नाले में ब्लड ट्रेल मिली है। जो साफ दिखाती है कि हत्यारे लाइन ऑफ कंट्रोल की तरफ वापस लौट गए। और इस बात के पुख्ता सबूत भी हमारे पास हैं कि ये हरकत पाकिस्तान की सेना ने की है। इसके लिए गोपाल बागले ने कहा कि पाकिस्तान इस बात पर तुरंत एक्शन ले और उनके खिलाफ कार्यवाही शुरू करे।

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW