विराट कोहली से ऑडी खरीदकर प्रेमिका को गिफ्ट देने वाला कॉल सेंटर ठगी का मास्टरमाइंड गिरफ्तार

ठाणे : दो हजार करोड़ रुपये के कॉल सेंटर ठगी के मास्टरमाइंड सागर ठक्कंर उर्फ शैगी को पुलिस ने गिरफ्तार कर दिया है। पुलिस के अनुसार, शुक्रवार रात दुबई से सागर जब मुंबई हवाई अड्डा पहुंचा, तो उसे गिरफ्तार किया गया। पिछले साल यह मामला उजागर होने के बाद से ही वह फरार था। फर्जी कॉल सेंटर के मास्टरमाइंड सागर ठक्कर ने क्रिकेटर विराट कोहली से उनकी 2.3 करोड़ की ऑडी कार 60 लाख रुपए में खरीदी थी। ये कार सागर ने अपनी गर्लफ्रेंड को गिफ्ट दी थी।

बता दें कि ठक्कर ने विराट कोहली से हरियाणा नंबर (HR 26 BW 0018) की यह आउडी साल 2016 मई में खरीदी थी। फिलहाल, यह गाड़ी ठाणे क्राइम ब्रांच के कब्जे में है। हालांकि, पुलिस ने इसकी पुष्टि की है कि कोहली गाड़ी के खरीदार को नहीं जानते थे, क्योंकि यह डील एक कार ब्रोकर ने कराई थी। ठाणे के पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने बताया कि ठक्कर को शुक्रवार रात दुबई से लौटते ही मुंबई हवाईअड्डे पर गिरफ्तार कर लिया गया।

इसके बाद उसे एक स्थानीय अदालत में पेश किया गया, जिसने ठक्कर को 13 अप्रैल तक के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया है। पुलिस के मुताबिक, ठाणे में करीब आधा दर्जन कॉल सेंटरों के जरिए यह घोटाला वर्ष 2013 से चल रहा था। इसमें अमेरिका के कम से कम 15,000 करदाताओं को निशाना बनाया गया था। पुलिस के पिछले साल ठाणे जिले के मीरा रोड स्थित कॉल सेंटरों पर छापा मारने के बाद इस घोटाले का भंडाफोड़ हुआ था।

पुलिस के मुताबिक, आर्थिक भ्रष्टाचार के मामले में उसने गत अक्टूबर में देश में अब तक का सबसे बडा छापा मारा था। इस मामले की अहम कडी गुजरात के रशेस चौकसी को तीन दिन पहले ही ठाणे पुलिस ने गिरफ्तार किया था। सूत्रों के मुताबिक, चौकसी सागर ठक्कर के सीधे संपर्क में था। कॉल सेंटर में इस्तेमाल होने वाले डायरेक्ट इनवर्ड डायलिंग और वाइस इंटरनेट प्रोटोकाल डायलिंग सिस्टम से जुडे उपकरणों को रशेस चौकसी ने ही सप्लाई किया था। उस कार्रवाई में 70 लोगों को गिरफ्तार किया था जिन पर मुंबई से सटे काशिमिरा के कॉल सेंटर से अमेरिका के लोगों को ठगने का आरोप था।

Share This Post