दिल्ली सरकार के मोहल्ला क्लीनिक पर उठे सवाल, केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने बताया बहुत बड़ा घोटाला

नई दिल्ली : दिल्ली सरकार ‘मोहल्ला क्लीनिक’ को अपनी एक बहुत बड़ी उपलब्धि मानती है। लेकिन अब केजरीवाल सरकार की इस उपलब्धि पर सवाल उठने लगे हैं। केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने मोहल्ला क्लीनिक परियोजना को लेकर उस पर निशाना साधा और इसे ‘घोटाला’ बताया है। 
हर्षवर्धन ने कहा कि ये पहल ऐसी हो सकती थी जिसपर दिल्ली गर्व कर सकती थी। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि अच्छी आमदनी के लिए मोहल्ला क्लीनिक में डॉक्टरों ने मरीजों की फर्जी एंट्री की है। केजरीवाल सरकार की व्यवस्था पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा कि एक मिनट में दो मरीजों का इलाज सच में रिकॉर्डतोड़ है। मोहल्ला क्लीनिक एक घोटाला है। 
AAP सरकार की मोहल्ला क्लीनिक में डॉक्टर मरीजों की झूठी एंट्री करते हैं, उनके दोबारा आने और अपनी आय के लिए उन्हें बेकार की दवाएं देते हैं। शिकायतों में कहा गया है, निजी डॉक्टरों को प्रति मरीज देखने का 30 रुपये मिलते हैं और वे मरीजों की संख्सा में ‘फर्जीवाड़ा’ कर रहे हैं। साथ ही मरीजों की संख्या बढ़ाने के लिए वे जानबूझकर व्यक्ति को बार-बार क्लीनिक बुला रहे हैं। 
Share This Post