Breaking News:

10 साल से ये सोच कर भाग रहा था अहमदाबाद सीरियल ब्लास्ट का गुनाहगार शोएब कि पुलिस उसे भूल चुकी है …

सन 2008 का अहमदाबाद सीरियल ब्लास्ट शायद सबको याद हो .. तमाम निर्दोष के खून से नहा गया था अहमदाबद शहर , मची थी चरों तरफ चीख पुकार और हंगामा .. फिर कुछ ने अपने परिजनों का अंतिम संस्कार किया , कुछ अपनी पुरानी जिंदगी में वापस आ गए .. पर इसके बाद भी १० साल होने वाले थे और कोई इतने लम्बे समय से जाग रहा था और सतर्क भी था तो वो थी पुलिस और उसने 9 साल से भी ज्यादा समय से भाग रहे अपराधी शोएब को अंत में धर दबोचा ..


पुलिस क्राइम ब्रांच ने उस रक्तरंजित ब्लास्ट के एक और आरोपित शोएब को केरल के कोझीकोड से पकड़ा है ..जॉइंट पुलिस कमिश्नर श्री जे के भट्ट जी ने बुधवार को सूचित किया कि गुजरात क्राइम ब्रांच के स्पेशल पुलिस आफिसरों ने केरल पुलिस के साथ साथ कोझीकोड के ख़ुफ़िया अधिकारीयों  की संयुक्त टीम के साथ मिल कर अहमदाबद ब्लास्ट के आरोपी शोएब मंगलवार को एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया ..

जॉइंट पुलिस कमिश्नर ने बताया की पकड़ा गया आरोपी शोएब 2008 के अहमदाबाद सीरियल ब्लास्ट के 18 आतंकियों में शामिल था जो पुलिस से लगभग  १० वर्ष से छिप कर भाग रहा था . बताया जा रहा है की आतंकी शोएब विदेश भाग गया था जिस पर पुलिस लगातार नज़र रखे थे और उसके वापस आने की प्रतीक्षा करते हुए कोझीकोड हवाई अड्डे पर आते ही उसको गिरफ्तार कर लिया गया …

अहमदाबाद विस्फोटों के बाद से वो लगातार विदेश में छिप कर रह रहा था जिसको गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने उसके विरुद्ध रेड कार्नर नोटिस भी जारी किया था . बताया जा रहा है की पकड़ा गया आतंकी शोएब इंडियन मुजाहिद्दीन और सिमी के काफी नजदीकी संबंधों में था जिसने बम बनाने के लिए आतंकी संगठनों को सहयोग किया जो बाद में कई लोगों के लिए प्राणघातक साबित हुआ ..  पुलिस के अनुसार शोएब की वर्तमान आयु लगभग 49  वर्ष है जो केरल के एक सम्पन्न परिवार में पैदा हुआ था जिसके अब्बा की वहां पर राइस मिल भी थी और उसका जन्म  मलाप्पुरम इलाके में हुआ था . उसका जेहादी दिमाग अंत में उसको आतंकी बना गया .. 

अहमदाबद ब्लास्ट में अब तक कुल पकडे गए आतंकियों की संख्या 80 हो चुकी है . 

Share This Post