Breaking News:

सुदर्शन न्यूज की मांग… राजस्थान पुलिस के जांबाज़ लालाराम के हत्यारे खनन माफिया तामील और सहारनपुर के खनन माफिया हाजी इक़बाल में हो सकते हैं संबंध .. होनी चाहिये दोनो की जांच

राजस्थान पुलिस ने अभी हाल ही में अपना एक वीर जांबाज़ खो दिया .. लालाराम के बलिदान से पहले सहारनपुर में ठीक ऐसी ही वारदात होते होते तब बची थी जब सहारनपुर में एक चौकी इंचार्ज की हत्या बिल्कुल इसी अंदाज में होते होते बच गयी ..

कुछ समय पहले की बात है ..सहारनपुर में चौकी इंचार्ज श्री राधेश्याम जी को ठीक ऐसे ही कभी अवैध खनन की शिकायत यमुना में मिली जिसके बाद वहां तैनात चौकी इंचार्ज राधेश्याम ने फौरन मौके की तरफ कूच किया .. मौके पर मुस्लिम समुदाय के 2 लोग खनन कर रहे थे .. दरोगा राधेश्याम ने उन्हें दौड़ा लिया .. वो दोनों भागते भागते मुस्लिम बहुत इलाके में पहुचे थे और वहां तमाम मुसलमानों ने दरोगा राधेश्याम को घेर लिया और बोले इसे मार डालो ..

राधेश्याम की सरकारी पिस्तौल छीन कर उन पर फ़ायर किया जिसमें दारोग़ा बुरी तरह घायल हुआ .. उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया  जहां जैसे तैसे उनकी जान बची .. राजस्थान पुलिस के जवान लालाराम की हत्या खनन माफियाओं के बाद एक बार फिर सहारनपुर के खनन माफियाओं की दादागीरी और गुंडागर्दी की सारी कहानी व सारे परिदृश्य सामने घूम गए हैं ..

सहारनपुर के स्थानीय निवासी बताते हैं कि उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े खनन माफियाओं में से एक हाजी इक़बाल भी सहारनपुर का है जिसके अवैध खनन से जुड़े रिश्ते पूरे भारत मे फैले हैं .. उत्तर प्रदेश पुलिस के चौकी इंचार्ज राधेश्याम पर जानलेवा हमला व राजस्थान पुलिस के जवान लालाराम की हत्या दोनो लगभग एक जैसे दुस्साहस हैं . 

सुदर्शन न्यूज की मांग है कि धरती माँ की हाजी इक़बाल व तामील जैसे खनन माफिया रक्षा कर रहे पुलिस के जवानों पर हत्या व हमला कर रहे इन माफ़ियाओ के आपसी सम्बन्ध की जांच हो जिस से कल ना कोई राधेश्याम बने और ना ही कोइ लालाराम …

Share This Post