Breaking News:

पुलवामा में सेना ने घेर रखा है मोस्ट वांटेड लश्कर आतंकी अबु दुज़ाना को .. सेना को घेर रखा है गाँव वालों ने , बरसा रहे हैं अंधाधुंध पत्थर


सेना के लिए हाथों में बन्दूकें लिए आतंकी अब उतना सरदर्द नहीं रह गए जितना हाथों में पत्थर और दिल मे जहर लिए आतंक समर्थक .. अपने लिए दिल्ली से पाकिस्तान तक मुजाहिद , मासूम और बेचारे जैसे नकली और बनावटी शब्द सुन कर आतंक को कवर दे रहे पत्थरबाजों का बेहद विकृत स्वरूप सामने आ रहा है …

मामला कश्मीर के पुलवामा का है .. यहां पिछले काफी समय से लश्कर ए तोइबा की रीढ़ माना जाने वाला आतंकी अबू दुज़ाना सेना के निशाने पर था … इस बार सेना को अबु दुज़ाना के पुलवामा के अंतर्गत पड़ने वाले हाकरीपोरा में होने की सटीक सूचना मिली जिस पर ऑपरेशन टुकड़ी अपने अभियान पर निकल पड़ी ..  सेना उस घर को घेर चुकी ही चुकी थी कि अंदर से गोलियां चलानी शुरू हो गयी जिसका जवाब सेना ने भी उसी अंदाज़ में दिया ..

इस बीच किसी ने खबर फैला दी इलाके में की अबु दुज़ाना सेना के हत्थे चढ़ चुका है और पूरी तरह घिर चुका है .. फिर क्या था , पूरा इलाका निकल पड़ा जिसमे औरतें भी शामिल है .. इन सबने सेना की टुकड़ी को घेर कर अंधाधुंध पत्थरबाज़ी शुरू कर दी है .. सेना को अब दो मोर्चे सम्भालने पड़ रहे हैं .. दिल्ली में विपक्षी पार्टियों को जवाब देने के दबाव में वो पत्थरबाज़ों के पत्थरों और अबु दुज़ाना की गोलियों को एक साथ झेल रही हैं..

खबर लिखे जाने तक सेना ने गांव को घेर रखा है , मुठभेड़ अभी जारी है पर पत्थरबाज़ों को काबू करने में सेना को बेहद समस्या का सामना करना पड़ रहा है …एक पत्थरबाज को आत्मरक्षा में जीप पर बांधने के बाद विपक्ष व तमाम बुद्धिजीवियों के हंगामें व सेना विरोधी बयानों के बाद सेना पत्थरबाज़ों से निबटने में असहज महसूस कर रही है ..  पत्थरबाज़ी से कुछ जवानों के चोटिल होने की खबर है .. लश्कर आतंकी अबु कासिम की मौत के बाद अबु दुज़ाना लश्कर की रीढ़ माना जा रहा है जिसको सेना उसके अंजाम तक पहुचाना चाह रही है यदि ये पत्थरबाज अपने मंसूबों में सफल ना हुए तो …


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...