Breaking News:

सुदर्शन की मुहिम पर NIA की मुहर. ISIS का सहयोगी आतंकी था जाकिर जिसे तमाम अभी भी मानते हैं इस्लामिक स्कालर

कुछ उसको इस्लामिक स्कॉलर कहते थे , कुछ ने नासमझी में उसको धर्म गुरु कहा , कुछ ने उसको जबरदस्त ज्ञानी बताया तो कुछ ने उसको सर्वधर्म समभाव का प्रतीक बताया … पर सुदर्शन न्यूज पहले ही दिन से कहता आ रहा था की ये केवल और केवल आतंकी है जिसका काम समाज में जहर फैला कर हिन्दुओं को पथभृष्ट कर के उस दिशा में ले जाना जहाँ से आतंक और आतंकवाद की शुरुआत होती है . ..

शुरू में कईयों ने सुदर्शन की मुहीम से शायद असहमित जताई . कुछ संचार माध्यमों के मंच तक उस आतंकी को जगह मिली पर सुदर्शन न्यूज ने अपनी मुहिम जारी रखी और अंत सुखद रहा .. NIA से गृह मंत्रालय को भेजी रिपोर्ट में मना की जानकर कोई छोटा मोटा उठाईगीर अपराधी नहीं बल्कि दुनिया के सबसे नृशंश आतंकी दल ISIS का मददगार था …सूत्रों के अनुसार NIA की रिपोर्ट में माना गया है की आतंकी ज़ाकिर नाइक और उसकी संस्था IRF ( इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन) ने केरल में पहले तो तम्मा युवाओं का धर्मभ्र्ष्ट करवाया फिर उनमे से २४ कट्टर जेहादी सोच रखने वाले युवाओं को ISIS में भर्ती करवा दिया .

इन्हे केरल से अफगानिस्तान जाने में भी आतंकी जाकिर ने मदद की और वो अफगानिस्तान चले भी गए अमेरिकी गठबनधन से लड़ने और ISIS के खोर्सान मॉड्यूल से लड़ने के लिए जहाँ वो एक के कर के अमेरिकी फौजों के शिकार बनते जा रहे हैं .  अफगानिस्तान में खड़े हो रहे ISIS के खुरसान मॉड्यूल के लिए लड़ रहे आतंकियों में जो भारतीय हैं वो सभी मुंबई जाकिर के आफिस में बराबर आया जाया करते थे … 

अब केवल प्रतीक्षा है आतंक के इस आका के गिरेबान पकड़ कर खींचते हुए भारत लाने की जहाँ इसके कुकर्मों का फैसला भारत की न्यायालय और पुलिस करे और अपनी नकली मुस्कान के पीछे खून की होली खेल रहे इस आतंक की बेल को काटेगी और भारत की शांति और सद्भाव के इस दुश्मन को फांसी के फंदे पर चढ़ा कर याकूब के अंजाम पर पहुंचाया जाएगा …

Share This Post