डीएम के घर सीबीआई का छापा, मंगानी पड़ी नोट गिनने की मशीन…


उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में डीएम आईएएस अभय सिंह के घर पर सीबीआई ने छापेमारी की है. बताया जा रहा है कि यह छापेमारी उनके ऊपर लगे खनन घोटाले को लेकर की गई है. इस मामले की सीबीआई जांच कर रही है. पिछली सरकार में अभय सिंह फतेहपुर के डीएम थे, इस दौरान उन पर अवैध रूप से खनन करवाने का आरोप लगा था. सूत्रों की माने तो डीएम आवास पर हुई छापेमारी में बड़ी संख्या में नोट बरामद होने की जानकारी है.

जिसके चलते सीबीआई टीम ने अब नोट गिनने की मशीन भी मंगाई है. घर से कैश बरामद सीबीआई भी हैरान. सीबीआई कि टीम पूरी तयारी के साथ गई थी. इस दौरान 4 गाड़ियां वहां पहुंची थी, जिनमें से दो गाड़ियां जरूरी दस्तावेज़ को अपने साथ ले गई है. अभी भी दो गाड़ियां घर में हैं और पूछताछ जारी है. सीबीआई की टीम उनके आवास पर पहुंची और लगभग 2 घंटे तक पूछताछ की, सिबीआई ने अभय सिंह के अवास के साथ-साथ उनके दफ्तर पर भी छापा मारा है.

अभय सिंह, सितंबर 2013 से लेकर जून 2014 तक फतेहपुर के डीएम रह चुके हैं. अभय कुमार सिंह 2007 बैच के यूपी कैडर के आइएएस अधिकारी हैं. वह बुलंदशहर के अलावा फतेहपुर, रायबरेली और बहराइच के भी डीएम रह चुके हैं.

अभय सिंह समाजवादी पार्टी की अखिलेश यादव सरकार में फतेहपुर के डीएम थे. बताया जा रहा है कि इस दौरान उन्होंने सारे नियमों को ताक पर रखकर मनमाने ढंग से खनन पट्टे किये. हाई कोर्ट की रोक के बावजूद लोगों को अवैध खन की रेवड़ी बांटी गई. वह मूल रूप से प्रतापगढ़ के रहने वाले हैं. उन्हें लगभग पांच महीने पहले ही बुलंदशहर का डीएम बनाया गया था.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...