नहीं रहे लोकप्रिय भाजपा नेता व केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार जी .. शोकाकुल राष्ट्र दे रहा भावभीनी श्रद्धांजलि

पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी के देहांत के बाद अगर भारतीय जनता पार्टी को दूसरा सबसे बड़ा आघात माना जा सकता है तो वो है आज सुबह कैंसर से लड़ी एक लंबी लड़ाई के बाद जीवन की जंग हार गए केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार जी का स्वर्गवास..भारतीय जनता पार्टी ही नही बल्कि समूचा राष्ट्र एक आघात जैसा महसूस कर रहा है अनंत कुमार जी के इस असामयिक देहांत से और परमात्मा से उनकी आत्मा की शांति की प्रार्थना भी कर रहा है ..

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार (Ananth Kumar) का 59 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है. वह कैंसर से जूझ रहे थे और बेंगलुरु में सोमवार को आखिरी सांस ली. भाजपा नेता अनंत कुमार साल 1996 से दक्षिणी बेंगलुरु का लोकसभा में प्रतिनिधित्व करते थे. उनके पास दो महत्वपूर्ण मंत्रालय थे और वह केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के कद्दावर मंत्रियों में से एक थे. रदेश को हतप्रभ कर देने वाले इस निधन के बाद तमाम नेताओं ने दुख व्यक्त किया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोकाकुल शब्दो मे कहा कि दिवंगत एक असाधारण नेता थे और वह कम उम्र में ही समाज की सेवा के लिए सार्वजनिक जीवन में आ गए थे. वह हमेशा अच्छे कार्यों के लिए याद किये जाएंगे. पीएम मोदी ने कहा कि अनंत कुमार जी एक सक्षम प्रशासक थे, जिन्होंने कई मंत्री पदभार संभाला. वह भाजपा संगठन के लिए बहुत महत्वपूर्ण थे. खासकर कर्नाटक में पार्टी को मजबूत बनाने के लिए जी-जान से काम किया. वह अपने क्षेत्र में हमेशा सर्वसुलभ भी रहते थे.

गौरतलब है कि अनंत कुमार (Ananth Kumar) लंबे समय से कैंसर से पीड़ित थे और उनका इलाज चल रहा था. पिछले दिनों उन्हें बेंगलुरु लाया गया था और एक अस्पताल में इलाज चल रहा था. बताया जा रहा है कि उनकी तबीयत में सुधार भी हो रहा था लेकिन अचानक तबीयत फिर खराब हो गई और सोमवार को तड़के देहांत हो गया. अनंत कुमार के परिवार में उनकी पत्नी तेजस्विनी और बेटी ऐश्वर्या और विजेता हैं.

Share This Post

Leave a Reply