बांग्लादेश नहीं सह पाया बौद्धों के कातिलों का बोझ… म्यांमार में वापस खदेड़ने की पूरी तैयारी

बांग्लादेश भी अब अपनी सुरक्षा से कोई खिलवाड़ नहीं करना चाहता, वो भी अब रोहिंग्याओ को खदेड़ने के लिए तैयार हो गया है और भारत को भी अब मुश्किलात से आराम मिलेगा और अब खतरे के बादल रोहिंग्या मुस्लमान छटते हुए नज़र आ रहे है , रोहिंग्या मुस्लमान जो कि भारत में एक बहुत ही बड़ा खतरा बनते दिख रहे थे. बता दे कि म्यमार और बांग्लादेश में चारों तरफ आतंकी घटनाएँ के पीछे रोहिंग्या मुस्लमानो का ही हाथ था।

और वे दोनों देशों को बर्बाद करने के बाद वह अपना अगला निशाना भारत को बनाने की फिराक में थे , धीरे – धीरे करके वो भारत में बहुत बड़े पैमाने घुसपैठ करने की फिराक में थे , और भारत में अपना आतंक फैलाने की तैयारी कर रहे थे . भारत में मुस्लामानों की बढ़ती हुई जनसंख्या भारत के लिए पहले ही बहुत बड़ा खतरा बन चुकी है , और ऊपर से रोहिंग्या मुस्लामानों का भारत में अधिक संख्या में घुसपैठ करना खतरे से खाली नजर नहीं आ रहा था.

भारत को बर्बाद करने की जो साज़िश रची जा रही थी , जिसका समर्थन भारत में औवेसी, ममता बनर्जी , कांग्रेस के कई दिग्गज नेता व कई वांमपथी संगठन करते नजर आ रहे थे , लेकिन उन सभी साज़िशों को भारत सरकार ने ध्वस्त कर दिया है . भारत सरकार के दबाव से बांग्लादेश और म्यांमार ने साढ़े 7 लाख रोहिंग्या मुस्लमानों की वापसी के लिए राज़ी हो गये है. यह भारत की कुटनिति में बहुत बड़ी जीत है .

जिसकी वजह से इन आतंकी रोहिंग्या मुस्लमानों का साया भारत से छटता हुआ दिखाई दे रहा है . जिससे भारत में आतंकवाद फैलाने वाले उन देशों को मुहँ तोड़ जवाब मिला है जिनका मकसद भारत में आतंकवाद फैलाना था ।

Share This Post

Leave a Reply