Breaking News:

भाजपा से लड़कर पस्त कांग्रेस अब आपस में भिड़ गई.. दो कद्दावर कांग्रेसियों की जंग से राहुल गांधी परेशान

सियासत के मैदान में प्रधानमंत्री मोदी तथा भारतीय जनता पार्टी से लगातार पटखनी खा रही कांग्रेस की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. एकतरफ बीजेपी कांग्रेस को कोई मौक़ा नहीं दे रही है तो दूसरी तरफ कांग्रेस के नेता आपस में ही भिड़ बैठे हैं. लगातार चुनावी हार से निराश कांग्रेस की कलह अब बाहर आ गई है तथा सीनिय कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली ने एक अन्य सीनियर कांग्रेसी जयराम रमेश पर करारा ज़ुबानी हमला बोला है.

हरियाणा में गिरफ्तार हुआ है पाकिस्तानी.. आखिर कौन बुलाया था उसे 3 साल में 9 बार ?

कांग्रेस के बड़े नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री वीरप्पा मोइली ने अपने ही पार्टी के दिग्गज जयराम रमेश को यूपीए-2 की बर्बादी का जिम्मेदार ठहराया है. दरअसल, हाल ही में जयराम रमेश ने कांग्रेस को नसीहत दी थी कि मोदी सरकार के खिलाफ दुष्प्रचार करने से पार्टी को कोई फायदा नहीं मिलने वाला. उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी को हमेशा खलनायक की तरह पेश नहीं करना चाहिए तथा उनके अच्छे कामों की तारीफ़ की जानी चाहिए. जयराम रमेश के इसी बयान पर वीरप्पा मोइली ने उनके खिलाफ अपनी भड़ास निकाली है.

दुर्दांत आतंकियों को क्यों रास आ रहा बिहार ? क्या जिहाद केवल कश्मीर तक था, ये सवाल खड़ा हुआ एक गद्दार की गिरफ्तारी से

मोइली ने कहा है कि अगर कांग्रेस खलनायक (मोदी को) साबित कर रही है तो वे (जयराम) हमारी सरकार (यूपीए-2) की पॉलिसी पारालाइसिस के लिए जिम्मेदार हैं और वे शासन के सिद्धांतों से कई बार समझौता करने के भी उत्तरदायी हैं. उन्होंने पीएम मोदी पर दिए गए उनके बयान को बहुत ही खराब बताते हुए आरोप लगाया कि वे अपने बयानों के जरिए बीजेपी के साथ कंप्रोमाइज करना चाह रहे हैं. मोइली ने कहा है कि कोई भी नेता जो इस तरह का बयान देता है, मैं समझता हूं कि वह कांग्रेस पार्टी या उसके नेतृत्व की सेवा नहीं कर रहा है.

पीएम मोदी की तारीफ़ की शशि थरूर ने तो भड़क उठी कांग्रेस, थरूर को लेकर लिया ये फैसला

उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि मंत्री होने के नाते वे अधिकारों का उपयोग करते हैं और विपक्ष में आकर वह सत्ताधारी दल के साथ एक संपर्क बनाए रखेंगे. मोइली ने आरोप लगाया कि वह (रमेश) यूपीए सरकार के दूसरे कार्यकाल में नीतिगत पंगुता के लिए जिम्मेदार हैं और वह कई बार प्रशासन के सिद्धांतों के साथ समझौता करने के लिए भी जिम्मेदार हैं. वीरप्पा मोइली ने कांग्रेस के  एक अन्य सीनियर नेता शशि थरूर पर भी ज़ुबानी हमला बोला.

मोदी का मुरीद होता जा रहा है वो कद्दावर कांग्रेसी जो कभी रीढ़ हुई करता था कांग्रेस की.. आखिर कौन खुश हुआ मोदी-ट्रंप मुलाक़ात से

मोइली ने कहा कि थरूर को कभी भी परिपक्व राजनीतिज्ञ नहीं समझा गया. उन्होंने कहा कि वह (थरूर) अकसर बयानबाजी करते हैं और प्रेस में जगह पाते हैं. मैं नहीं समझता के उनके बयान को गंभीरता से लिया जा सकता है. उन्हें गंभीर राजनीतिज्ञ बनना होगा. यह हमारी अपील है. मोइली ने कहा कि मेरे विचार से कांग्रेस पार्टी के लिए यह समय समुचित अनुशासनात्मक कार्रवाई करने और ऐसे लोगों को आगाह करने का है जो (कांग्रेस पार्टी को) छोड़ कर जाना चाहते हैं. उन्हें सीधे सीधे जाने दिया जाए, वे पार्टी में रह कर, पार्टी के साथ और उसकी विचारधारा के साथ कोई छेड़छाड़ न करें.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करें. नीचे लिंक पर जाऐं–

Share This Post