Breaking News:

कांग्रेस में जबरदस्त घमासान. मुस्लिम कांग्रेसी नेता बोला – निकाल कर बाहर करो सिब्बल को

अयोध्या में राम मंदिर को न जाने कितने समय से कांग्रेस इस मामले को टालती आ रही है। इसी मामले को निज्जी रूप से भाजपा ने लिया जिसके बाद आज

इस मामले में सुनवाई जारी है जिसके निर्णय का इंतज़ार सभी को है। कांग्रेस हमेशा से किसी मुद्दे में निष्कर्ष निकालने के बजाए उसे राजनैतिक रूप दे देती है।

वहीँ एक बार फिर कांग्रेस पार्टी के एक कट्टर नेता ने राम मंदिर के मामले एक विवादित बयान जारी किया जिसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष को पत्र लिख कर पार्टी से

उन्हें निकालने की मांग की गई है।

आपको बता दे कि कांग्रेस के कट्टर नेता कपिल सिब्बल ने उच्चतम न्यायलय में अयोध्या मामले को टालने की बात की है जिसके बाद कई अन्य नेता उनके इस

विवादित बयान से काफी नाराज़ है। उप्र कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष और पूर्व विधानपरिषद सदस्य सिराज मेंहदी ने इस मामले में कांग्रेस के अध्यक्ष

सोनिया गाँधी को एक पत्र लिखा जिसमे उन्होंने कहा है कि ”सिब्बल को या तो पार्टी से निकाल देना चाहिए या उन्हें स्वयं नैतिक आधार पर पार्टी से इस्तीफा दे

देना चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा कि कपिल सिब्बल ने यह बयान तब दिया जब कांग्रेसियों ने एकमत से राहुल गांधी को पार्टी का अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव दिया

है।” इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि “सिब्बल हमेशा से पार्टी का नुकसान करने वाले बयान देते है।”

मेहँदी ने कहा है कि दोनों पक्षों ने मामला उच्चतम न्यायालय पर छोड़ दिया है, क्योंकि देश की जनता को यकीन है कि जो फैसला देगा वह दोनों पक्षों को मान्य

होगा। किसी भी पक्षकार ने यह नहीं कहा कि वह उच्चतम न्यायालय के फैसले को नही मानेंगे। इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा सिब्बल के इस बयान से ना ही

भारीतय जनता सेहत है ना ही अदालत सहमत है। 

Share This Post

Leave a Reply