जिस सैम पित्रोदा के खिलाफ देश मांग रहा था कार्यवाही उसके साथ कुछ ऐसी पेश आई कांग्रेस.. वो हुआ जो सोचा भी न था

जब हिंदुस्तान की जनता, जब पूरा देश कांग्रेस के सीनियर नेता सैम पित्रोदा के खिलाफ कार्यवाई की मांग कर रहा था, उस समय कांग्रेस ने सैम पित्रोदा पर कार्यवाई के बजाय उनको इनाम दिया है. जब पूरे देश को उम्मीद थी कि आतंकी मुल्क पाकिस्तान के प्रधानमन्त्री इमरान खान के प्रवक्ता की तरह पाकिस्तान के बालाकोट में भारत की एयरस्ट्राइक पर सवाल खड़े करने वाले, देश की सेना का अपमान करने वाले सैम पित्रोदा के खिलाफ कांग्रेस एक्शन लेगी, राहुल गांधी एक्शन लेंगे, उस समय कांग्रेस ने सैम पित्रोदा को इनाम दिया है.

अब लालू की पार्टी में मची भगदड़.. RJD प्रदेश अध्यक्ष ने ओड़ लिया भगवा तथा बोलीं- “फिर एक बार मोदी सरकार”

खबर के मुताबिक़, कांग्रेस पार्टी ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए सैम पित्रोदा को चुनाव प्रचार निगरानी समिति के प्रमुख के रूप में नियुक्त किया है. चुनाव 2019 के लिए कांग्रेस की ओर से सैम पित्रोदा चुनाव प्रचार निगरानी समिति के प्रमुख होंगे. इसके अलावा इस कमेटी में कांग्रेस के कई नेता जैसे पवन खेड़ा, रोहन गुप्ता, प्रवीन चक्रवर्ती, प्रियंका चतुर्वेदी, दिव्या स्पंदना और मनीष चतरा को भी शामिल किया गया है. कमेटी के सदस्य लोकसभा चुनाव प्रचार की मॉनिटरिंग करेंगे.

हिन्दू प्रत्याशी को टिकट और उन्हें नहीं, तो ट्रैक्टर ट्राली ले कर पार्टी कार्यालय पहुचे अब्दुल सत्तार और भर लिया वो सब, जो उन्होंने दिया था

बता दें कि हाल ही में सैम पित्रोदा ने पुलवाम हमले पर सवाल उठाते हुए कहा था कि, ‘मुझे पुलवामा हमले के बारे में ज्यादा पता नहीं है लेकिन ऐसे हमले होते रहते हैं, मुंबई के ताज होटल और ओबेरॉय होटल में भी हमले हुए। हम भी उस वक्त प्रतिक्रिया दे सकते थे और अपने विमान भेज सकते थे लेकिन इस तरह से करना सही नहीं होता। उन्होंने मुंबई के 26/11 हमले का जिक्र करते हुए कहा कि कि आठ लोग आते हैं और कुछ करते है तो इसके लिए आप पूरे देश (पाकिस्तान) को दोषी नहीं ठहरा सकते हैं. पित्रोदा के इस बयान के बाद उनकी जमकर आलोचना हुई थी लेकिन इसके बाद भी पित्रोदा अभी तक अपने बयान पर कायम हैं तथा कांग्रेस इसके लिए उनको इनाम भी दे रही है.

जिस अडानी को बार बार जोड़ा जाता रहा मोदी से, उसी अडानी का रिश्ता निकला कांग्रेस से

Share This Post