पार्कों में बिना अनुमति नमाज़ पर कांग्रेस का बयान – “अगर नमाज़ रोक रहे हो तो संघ की शाखाओं पर भी लगाओ बैन”

जिस नमाज़ के लिए प्रशासन से अनुमित नहीं ली गयी , जिस नमाज़ के खिलाफ स्थानीय जनता ने शिकायत की . उस नमाज़ को जब प्रशासन ने सही जगह करने की बात कही तब इस मामले में अचानक ही कूद पड़ी कांग्रेस और सीधे सीधे राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ पर लगा दिया निशाना . कांग्रेस के बयान से कहीं न कहीं ये जरूर लग रहा है कि कांग्रेस बिना अनुमति पार्को में नमाज़ पढने वालों के साथ खड़ी होती दिख रही है .

नोएडा के सेक्टर-58 स्थित पार्क में नमाज पढ़ने का मुद्दा पिछले कुछ दिनों से सुर्खियों में बना हुआ है। 3 दिन पहले पार्क में नमाज पढ़ने को लेकर नोएडा पुलिस ने इंडस्ट्रियल में स्थित सभी कंपनियों को नोटिस भेजा था। वहीं आज अधिकारियों के रवैये ने यह साफ कर दिया है कि पार्क में नमाज नहीं पढ़ने दी जाएगी। इसको लेकर पार्क के आसपास पुलिस बल तैनात रहा, जबकि नोएडा प्राधिकरण द्वारा नियमित प्रक्रिया का हवाला देते हुए पार्क में पानी भर दिया गया।

इसी मुद्दे पर कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ  नेता संपूर्णानंद ने उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह को पत्र लिखकर पूरे राज्य में पब्लिक प्लेस पर बिना इजाजत लगने वाली राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शाखाओं पर रोक लगाने की मांग की है।  उन्होंने कहा, “मैंने डीजीपी को पत्र लिखा है और पूछा है कि कानून आरएसएस की शाखा पर क्यों नहीं लागू होता? क्यों सिर्फ नमाज को ही पब्लिक प्लेस पर रोका जा रहा है।” उन्होंने कहा कि यह उत्तर प्रदेश प्रशासन का अनावश्यक आदेश था। इस मुद्दे को लेकर समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी ने भी योगी सरकार पर निशाना साधा था।

Share This Post