एक प्रयास और सफलता की ओर . अातंक के अाका जाकिर नाईक को लगा अदालत का झटका

सुदर्शन न्यूज की आतंक के आकाओं के खिलाफ मुहिम को धार तब मिली जब अदालत ने आतंक के आका को कोई भी राहत देते हुए साफ़ कह दिया कि आतंक के खिलाफ कोई भी किसी भी प्रकार का समझौता नहीं होगा . 


महाराष्ट्र की एक विशेष अदालत ने मनी-लॉन्ड्रिंग के एक पुराने मामले में गुरुवार को आतंकी शिक्षक जाकिर नाईक के खिलाफ मुंबई में गैर जमानती वारंट जारी किया। प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट‘ (पीएमएलए) के तहत मामलों की सुनवाई करने वाली अदालत से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने नाईक के खिलाफ गैर जमानती वारंट की मांग की थी जिसमे ED ने जाकिर को विदेशों से अवैध पैसा मंगाने का आरोपी बनाया है जिसका उपयोग आतंकी गतिविधियों को संचालित करने में किया गया था .   


Ed के बार बार पेश होने के बाद भी भाग कर छिपे रहना जाकिर के अपने आत्नकी कारनामों की एक प्रकार से स्वीकारोक्ति भी है .Ed के पास खाड़ी देशों से जाकिर के खाते में अकूत धन आने के पक्के सबूत हैं और इन्ही सबूतों के आधार पर वो ज़ाकिर से पूछताछ करना चाहती है . ED द्वारा ये मामला गत वर्ष दिसंबर में दायर किया गया था जिसके बाद ज़ाकिर विदेश फरार हो गया था और तब से वापस नहीं आया . 

 

Share This Post