सुप्रीम कोर्ट ने मध्यप्रदेश सरकार को नसीहत दी और आदेश दिया- “रिलीज ही होगी पद्मावती”

लम्बे समय से विवादों में हिन्दुओं की संस्कृति को आहत करने वाली फिल्म पद्मावत पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर बड़ा फैसला सुनाया है . राजस्थान और मध्यप्रदेश में फिल्म में रोक लगाने वाली याचिकओं को खारिज़ करते हुए वहाँ पद्मावत फिल्म दिखाने के आदेश दिये , कहा कि कानून व्यवस्था बनाए रखना सरकार कि जिम्मेदारी है. इससे पहले राजस्थान और मध्य प्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर फिल्म ‘पद्मावत’ को पूरे देश में रिलीज करने के आदेश में संशोधन की गुहार लगाई थी.

करणी सेना और अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने भी फिल्म पर प्रतिबंध लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की. आपको बता दें कि 25 जनवरी को पद्मावत फिल्म रिलीज होने वाली है . पुरे देश में इस फिल्म के विरोध हो रहे है. कई हिन्दु संगठन , हिन्दु संस्कृति को आहत करने और इतिहास को तोड़मरोड़ने वाली इस फिल्म का जोरों से विरोध कर रहे है . इसी कारण राजस्थान औऱ

मध्य़प्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से अपनी याचिकाओं में कहा कि राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए उन्हें फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने का अधिकार है. 18 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश और हरियाणा द्वारा ‘पद्मावत’ पर लगाई गई पाबंदी को हटा दिया था . अब देखने वाली बात यह है कि पुरे देश में चारों तरफ इस फिल्म को रोक लगाने के लिए हो रहे प्रदर्शनों को सरकार किस प्रकार शांत कर पाती है.

Share This Post