कभी मुम्बई में जमीनें कब्जा करने वाला हत्यारा अबू सलेम योगी से मांग रहा अपने जमीन की सुरक्षा…बदल रहा है समय

उसने एक समय पूरी दुनिया में अपना खौफ फैला रखा था. उसके नाम से ही लोग कांपते थे. वो मुम्बई बम ब्लास्ट का एक मुख्य आरोपी है जिसने मुंबई में बम धमाकों को अंजाम दिया था जिसमें सैकड़ों लोगों की जानें गयीं थी. उसका नाम है अबू सलेम, मुंबई ब्लास्ट का मुख्य आरोपी और अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम जिसके रोब से लोग थर थर कांपते थे आज उसे डर सता रहा है. जिसने सबको डराया आज वो खुद डर रहा है.

एक समय में जो अबू सलेम मुम्बई में जबरन दूसरों की बिल्डिंग, दुकान, मकान आदि पर कब्जा करता था, मुम्बई के आम आदमी से लेकर बिल्डर तक अबू सलेम के नाम से कांपते थे. एक जमाने में अपनी धौंस से लोगों को डरा धमका कर जबरन वसूली करने वाले अबू सलेम को आज अपनी पुश्तैनी जमीन पर कब्जा होने का डर खाये जा रहा हैं. अबू सलेम इस समय मुंबई की सेंट्रल जेल में बंद है. अबू सलेम को इस बात का डर है कि उत्तरप्रदेश के आजमगढ़ में उसकी पुश्तैनी जमीन पर कुछ लोग कब्जा कर रहे हैं और इसके लिए उसने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तथा उत्तर प्रदेश प्रशासन को पत्र लिखकर इस पर कार्यवाही की आग की है. जो कभी कानून को ठेंगा दिखाता था आज उस अबू सलेम को योगी आदित्यनाथ से न्याय की उम्मीद है. निश्चित रूप से अब समय बदल रहा है.

अबू सलेम ने आजमगढ़ के सरायमीर थाने में पत्र लिख कर पुलिस से इस मामले में हस्तक्षेप करने और न्याय की गुहार लगायी है. सलेम ने अपने पत्र में अपनी जमीन अराजी 738/02 क्षेत्रफल 160 का जिक्र करते हुए कहा है कि ये जमीन उसके और उसके भाइयों के नाम पर खतौनी दर्ज है लेकिन अब इस पर दबंगों ने कब्जा जमा लिया है.

मुम्बई की सेंट्रल जेल में बंद अबू सलेम ने अपने वकील के माध्यम से यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, आजमगढ़ जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह, एसपी आजमगढ़ और थानाध्यक्ष को पोस्ट के माध्यम से प्रार्थना पत्र सौंपा है तथा इस पर कार्यवाही की मांग की है.

Share This Post