“झूठ बोलते हैं ये प्यार का भी धर्म खोजने वाले लोग, प्यार अनमोल होता है जिसे कोई नहीं खरीद सकता”.. बाद में वही बिकी मात्र 40 हजार में , फारुख के हाथो

उसके हिसाब से जैसे वो थी वैसे सब होंगे लेकिन असल में ये उसकी गलतफहमी थी जो उसका जीवन तबाह कर के मानी . माता , पिता . समाज और कईयों की बातों को ठुकरा कर उसने फारुख को अपना साथ चुन लिया जिसने उसको पूरा विश्वास दिलाया की उसका मन पवित्र और साफ़ है .. उसने ये भी बताया की प्यार का मत और मज़हब खोजने वाले लोग जूठ बोलते हैं और वो सही है बाक़ी तमाम लोग गलत .. और उसने फारुख पर विश्वास कर लिया बाकी तमाम पर अविश्वास करने के बाद .

ज्ञात हो की उत्तर प्रदेश के महोबा जिले में छह माह पूर्व एक युवक ने 22 साल की एक युवती को प्रेमजाल में फंसाकर उसका अपहरण कर लिया और पांच माह तक उसका शारीरिक शोषण करने के बाद एक अन्य युवक को चालीस हजार रुपये में बेचकर जिस्मफरोशी के गोरखधंधे में धकेलने की कोशिश की। पुलिस ने झांसी जिले के मऊरानीपुर कस्बे में दबिश देकर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में आसानी से लड़कियों को फंसा कर उनकी जिंदगी तबाह करने के उन तमाम दावों पर मुहर लग रही है जिसे इस से पहले कई बार सुदर्शन न्यूज तमाम खबरों में साबित कर चुका है . इस मामले में मोहबा के पुलिस अधीक्षक एन. कोलांची ने बताया कि छह माह पूर्व युवती के परिजनों ने फारूक के खिलाफ आईपीसी की धारा-363 (अपहरण) का मुकदमा दर्ज कराया था। अब लड़की बरामद हो गई है, जो तथ्य सामने आएंगे, उसी आधार पर कार्रवाई की जाएगी।”

इस बेहद सनसनीखेज मामले में महोबा के पुलिस उपाधीक्षक श्री जितेंद्र दुबे जी ने शुक्रवार को बताया, “महोबा जिला मुख्यालय के एक मुहल्ले की 22 साल की युवती को फारुख नामक युवक अपने प्रेमजाल में फंसाकर शादी का झांसा देकर छह माह पूर्व उसका अपहरण कर लिया था और अपने साथी के साथ मिलकर चार दिन उसे कुलपहाड़ कोतवाली क्षेत्र के बेलाताल कस्बे में बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। बताया जा रहा है कि कई दुष्कर्मो के बाद उन्होंने बताया कि बाद फारूक ने युवती को मऊरानीपुर थाना क्षेत्र के सोनापुर गांव के एक युवक को 40 हजार रुपये में बेच दिया। इतना ही नहीं प्यार आदि सब हवा में उड़ा कर फारुख और उसके साथी उनके जाल में फंस चुकी उस युवती को जिस्मफरोशी के धंधे में धकेलना चाह रहे थे। मुख्य आरोपी फारूक और उसका साथी फरार हैं। शनिवार को लड़की के बयान सीआरपीसी की धारा-164 के तहत न्यायालय में दर्ज कराने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।” 

Share This Post

Leave a Reply