हांफती हुई बजरंग दल कार्यालय पहुची कलकत्ता से मेरठ भाग कर आई रीमा. बोली – “भैया, बहुत बड़ा धोखा किया उसने मेरे साथ, मुझे पता है आप बचा लेंगे”

बजरंग दल कार्यालय में भगवा वस्त्र पहने टीका लगाए वो तमाम युवा उस समय चौंक गये जब उनके कार्यालय में हाँफते हुए एक लड़की घुस गयी . बिना किसी के कुछ पूछे ही उसने रोना शुरू कर दिया .. उसकी भाषा को देख कर और जान कर वहां बैठे लोगों ने अनुमान लगा लिया कि ये कहीं बाहर की रहने वाली है जो किसी विपत्ति में है . उसको आराम से बैठा कर जब बहन बोल कर उसकी विपत्ति को पूछा गया तो उसने दिया ऐसा जवाब जो सुन कर वहां हर कोई हक्का बक्का रह गया और बजरंग दल वालों को कहना पड़ा कि अगर इस मामले में लड़की को न्याय पुलिस ने नहीं दिलाया तो वो खुद ही उसे न्याय दिला कर रहेंगे . 

इस मामले में अब बजरंग दल के बड़े पदाधिकारी भी उतर आये हैं और उत्तर प्रदेश के मेरठ में सोमवार को बजरंग दल के प्रदेश संयोजक बलराज डूंगर ने लव जिहाद पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है।, उन्होंने कहा कि लव जिहाद एक भयानक संक्रमण का रूप महामारी की तरह लेता जा रहा है और प्रशासन की विफलता को देखते हुए अब वे अपने सदस्यों के साथ मिलकर लव जेहादियों को सबक सिखाएंगे। उनका साफ़ साफ शब्दों में चेतावनी के अंदाज़ में कहा कि अगर पुलिस प्रशासन लव जिहादियों को रोकने में नाकाम होगा तो फिर बजरंग दल के कार्यकर्ता सड़कों पर उतरेंगे और अपने तरीके से इन जिहादियों को सबक सिखाएंगे।

मेरठ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के कार्यालय पहुंची रीमा नाम की महिला कलकत्ता की रहने वाली है जिसका आरोप है कि राजू नाम के युवक ने अपना धर्म छिपाकर रीमा से शादी की थी। रीमा का कहना है कि शादी के 8 साल बाद राजू रीमा को अपने गांव मेरठ के सरधना ले आया तो राजू की असलियत पता लगी कि राजू मुस्लिम है। इसपर रीमा ने राजू का विरोध किया और कहा कि तुमने मुझसे झूठ बोलकर शादी की है जिसकी शिकायत में पुलिस से करूंगी लेकिन राजू ने रीमा को घर में ही बंधक बना लिया।
फिर शुरू हुआ रीमा का प्रताड़ना का भयानक दौर और आये दिन मारने पीटने के अलावा खाना भी न देने का सिलसिला . उसको घर में बंधक बना कर मुह बंद रखने की धमकी दी जाने लगी और जरा सा भी आवाज निकलने पर उसको बुरी तरह से जानवरों से भी बर्बर हालत में पीटा जाने लगा .

रीमा के अनुसार उसके 3 बच्चे भी हैं। रीमा का आरोप है कि राजू के भाई भी मुझसे बदतमीजी करते हैं। लगभग 2 साल बंधक बनी रीमा आज किसी तरह घर से भाग निकली और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को मिल गई। बजरंग दल के कार्यकर्ता रीमा को लेकर एसएसपी ऑफिस पहुंचे और वहां एसएसपी से रीमा को इंसाफ दिलाने के साथ-साथ आरोपी राजू पर कार्रवाई की भी मांग की है। गर्मजोशी में बजरंग दल के प्रदेश संयोजक बलराज डूंगर पिछले कई मामले बताते हुए यह भी कहा कि अगर प्रशासन लव जिहाद को रोकने में फेल साबित हुआ तो बजरंग दल के कार्यकर्ता सड़कों पर उतरकर इन लव जिहादियों को सबक सिखाएंगे चाहे इसके लिए उन्हें कुछ भी करना पड़े। 

Share This Post

Leave a Reply