Breaking News:

भारत को फिर मिली बांट देने की धमकी .. मुज़फ्फर बेग ने हिंदुओं को याद दिलाया 1947

ये वही नेता है जिनके आगे एक एक कर के कश्मीरी हिंदुओं को मार डाला गया तंग और उनकी बहन बेटियों का बलात्कार किया गया था .. लेकिन उस समय एकदम खामोशी के साथ इन्होंने तमाशा देखा और आखिरकार वहां से लाखों हिन्दू अपनी जमीन, जायदाद त्याग कर भारत के तमाम हिस्सों में बस गए .  इतने के बाद भी हिन्दू समाज ने कभी अलग देश या प्रदेश नही मांगा और जहां भी गए वहां के मुस्लिम समुदाय के साथ घुल मिल कर रहने लगे.. उन्होंने जब भी मांगा तो अपने लिए सुरक्षा व फिर से अपनी वो जमीन जायदाद जिसे वो छोड़ कर आये थे ..

लेकिन वहीं दूसरी तरफ अचानक ही मोब लिंचिंग के मामले में एक वर्ग ने खुद को ही पीड़ित व दूसरे वर्ग को शोषक घोषित कर दिया है .. भीड़ का पहली बार धर्म घोषित हो गया जबकि आतंकवाद का आज तक कोई धर्म नही बताया गया कई प्रमाण मिलने के बाद भी .. इसी क्रम में एक और मुस्लिम नेता ने मुसलमानों से भरी भीड़ में भारत देश के एक और विभाजन की धमकी दे डाली है और हिन्दू समाज के साथ साथ भारत सरकार को भी सन 1947 का समय याद दिलाते हुए कहा है कि गाय के नाम पर मुसलमान को मार रहे लोग 1947 याद कर लें .. आगे आने वाले हालात खराब होंगे अगर वो इस सब बाज़ नही आये तो ..

ये बयान देने वाले है महबूबा मुफ्ती के बेहद करीब माने जाने वाले मुज़फ्फर हुसैन बेग जो PDP के एक बड़े नेता के रूप में गिने जाते हैं और कश्मीरी मुसलमानों में काफी लोकप्रिय भी . इस बयान को देते समय वहां मौजूद भीड़ में किसी एक नए भी इस नेता का विरोध नही किया जबकि उनके समर्थन में तालियां आदि बजा कर उन्हें परोक्ष रूप से सही ठहराया .  इस बयान पर अभी तथाकथित बुद्धिजीवी वर्ग व सेकुलर समाज के प्रतिनिधि खामोश हैं ..ध्यान देने योग्य है कि इसी पार्टी की मुखिया ने अभी हाल में ही नया सलाहुद्दीन पैदा करने की धमकी तक दे डाली थी   

Share This Post