शरिया की दस्तक भारत में.. पहली बार किसी महिला को पत्थर से मारने का फरमान

ये पहली आहट कही जा सकती है उस शरीया कानून की जिसकी अदालते भारत में खुलने के लिए अभी हाल में ही एलान किया गया था और इसी के लिए कई आतंकियों ने खुल कर मौत को गले लगाया है भारत की फौजो पर गोलियां चला कर . उसी कानून को लागू करने की आहट पहली बार भारत में सुनाई दे रही है . इतना ही नहीं , महिला के बालों को उखाड़ लेने और उसको देश से भगाने तक का एलान हुआ है . 

ज्ञात हो की भारत में रहने वाली तमाम मुस्लिम महलाओं को तीन तलाक और हलाला जैसी कुरीतियों से मुक्त करने के खिलाफ आवाज उठाने वाली निदा खान और फरहत नकवी अब सीधे सीधे मौत की धमकी को झेल रही है . उनके खिलाफ तमाम फतवों के बाद अब वो फतवा आया है जिसे आप ने केवल मुस्लिम देशो में सुना रहा होगा . वर्तमान समय में मुस्लिम महिलाओं में नारी शक्ति की प्रतीक बन चुकी इन दोनों के खिलाफ आया है एक और फतवा जिसमे जारी किया गया है वो सब कुछ जो किसी भी हालत में नारी के सम्मान और मानवता की कसौटी पर खरा नहीं कहा जा सकता है . 

विदित हो की इन दोनों महिलाओं के खिलाफ जारी हुए फतवे में देश हैरान है . अक्सर टी वी डिबेट में देश किसी के बाप का नहीं कहने वाले कुछ लोगों ने ही इन दोनों को देश छोड़ देने का फतवा दिया यही . इतना ही नहीं कट्टरपंथ की पराकाष्ठा को पार करते हुए इस फतवे में कहा गया है कि निदा और फरहत को पत्थरों से मारने वाले और इन दोनों के बाल उखाड़ लेने वालों को की चोटी काट कर देने और उनको पत्थर मारने वाले को ऑल इंडिया फैजान-ए-मदीना काउंसिल के अध्यक्ष मुईन सिद्दीकी नूरी ने 11,786 रुपये का इनाम देगा . दोनों को फतवे में 3 दिन के अंदर देश छोड़ने का आदेश दिया गया। फतवे में दोनों महिलाओं के खिलाफ अपशब्दों का प्रयोग किया गया है।

Share This Post