उत्तर प्रदेश कासगंज के बाद अब एक और स्थान पर राष्ट्रीय अस्मिता के प्रतीक तिरंगे का अपमान..भारत के तमाम हिस्से देशद्रोहियों की चपेट में

जहाँ एक तरफ उत्तर प्रदेश का कासगंज तिरंगे की रैली पर हमले का गवाह बना वहीं मध्यप्रदेश में भी तिरंगे का खुला अपमान किया गया है ..चिंता की बात ये है कि इतने के बाद भी तमाम तथाकथित सेकुलर समूह बर्फ जैसे सर्द हो कर खामोशी से बैठे हैं ..

गणतंत्र दिवस पर शुजालपुर में पाकिस्तान परस्ती मध्य प्रदेश के शुजालपुर में भी दिखी जब मुस्लिम युवकों द्वारा तिरंगा रैली में काला झंडाफहराया गया और सीधे सीधे राष्ट्र की अस्मिता को चुनौती दी गयी..इस बेहद ही घृणित व अक्षम्य मामले में स्थानीय पुलिस ने 3 युवकों के खिलाफ राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम के तहत कार्रवाई कर दी है .. अचानक एक ही दिन उत्तर प्रदेश के कासगंज व मध्यप्रदेश के शुजालपुर में लगभग एक ही प्रकार की घटना कहीं न कहीं एक बड़ी साजिश की तरफ इशारा कर रही है .. मध्यप्रदेश के इन देशद्रोहियो पर आरोप है कि इन्होंने साथ ही पाकिस्तान का झंडा फहराते हुए भारत विरोधी व पाकिस्तान समर्थक नारे लगाए ..

26 जनवरी को शाजापुर जिले के शुजालपुर में मुस्लिम समाज के युवकों द्वारा रैली निकालकर तिरंगे झंडे के साथ काले कलर का झंडा फहराया गया था हिंदू संगठनों ने इस मामले में विरोध किया था जिसके बाद दोनों पक्ष पुलिस चौकी के पास आमने-सामने हो गए थे हिंदू संगठनों ने पुलिस चौकी का घेराव कर काला झंडा लहरा कर देश की अस्मिता पर सवाल करने वाले खड़ा करने वाले युवकों पर कार्रवाई की मांग करते हुए ज्ञापन सौंपा था पुलिस ने इस मामले में विवाद बढ़ता देख राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम 1971 के तहत तीन युवकों के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है..

Share This Post

Leave a Reply