क्षत्रिय परिवार को बना दिया मुसलमान. तौफीक खां से दोस्ती को धर्मनिरपेक्षता मानने वाला एक लाचार बाप लगा रहा गुहार -“बहुत बड़ा धोखा हुआ हमारे साथ”

उसके घर के दरवाजे सभी के लिए खुले थे .. क्षत्रिय होते हुए भी कभी उसके परिवार ने जाति या धर्म आदि का नाम नही लिया था और इसी के चलते ही उनके घर मे तौफीक आदि का आना जाना लगा रहता था .. नेताओं की कही गयी धर्मनिरपेक्षता की बातें उन्हें बहुत पसंद आती थी और वो नेताओं के उन भाषणों को शत प्रतिशत सही मान कर अपने जीवन मे उतारा करते थे लेकिन उन्हें नहीं मालूम था कि उनके घर पर आने वाली है ऐसी आफत जो तबाह कर देगी उसके घर को धार्मिक, सामाजिक रूप से .. और अब वो आखिरकार हो ही गया जिसके बाद एक वृद्ध पिता गुहार लगा रहा अपने परिवार को वापस पाने की ..

मामला उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले का है .. यहां के हरगांव क्षेत्र के एक बुजुर्ग ने पुलिस को तहरीर देकर घर के सदस्यों का जबरन धर्म परिवर्तन कराने का आरोप दूसरे समुदाय के लोगों पर लगाया है। इस मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। इसके साथ ही एहतियातन गांव में भारी पुलिस बल व पीएसी तैनात की गई है। एसपी का कहना है कि मामले में केस दर्ज हो गया है। जांच की जा रही है। है। 

हरगांव थाना क्षेत्र के हरीरामपुर निवासी जयकरन सिंह पुत्र चंदन सिंह ने पुलिस को बताया कि उसके चार पुत्रों में सबसे बड़ा पुत्र समरबहादुर सिंह उर्फ दरोगा सिंह अपने मित्रों थाना क्षेत्र के गांव मोहरसा निवासी सिराजए मेराजए दरोगा खां व तौफीक खां पुत्रगण इस्तियाक के साथ कपड़ा बेचने कश्मीर गया था। आरोप है कि वहीं पर सिराजए मेराजए दरोगा खां व तौफीक खां ने समरबहादुर पर इस्लाम कबूल करने का दबाव बनाते हुए प्रलोभन दिया। वे लोग उसे धर्म बदलवाने के लिए मौलवियों के पास भी ले गये।

पिता का कहना है कि ईद के समय पिछले दिनों उनका बेटा समरबहादुर घर आया था। उस दौरान भी वह आरोपियों के संपर्क में रहा। पिता का कहना है कि 29 जून को सुबह 11 बजे समरबहादुरए उसकी पत्नी शिवदेवी व तीन बच्चे पुष्करए शिवांग व नागेंद्र को पुतन्नी पुत्र इदरीश निवासी मोहरसा थाना हरगांव व कुछ अन्य लोग उसके घर से जबरन ले गए तथा लहरपुर में धर्म परिवर्तन करा दिया। तब से वे सब घर नहीं आए हैं। इस साजिश में क्षेत्र के कुछ अन्य लोग भी शामिल हैं। यकरन सिंह ने अपने बेटे के परिवार को कब्जे से मुक्त कराने की गुहार पुलिस से लगाई है।

पुलिस ने आरोपियों के विरुद्ध केस दर्ज कर लिया है। एहतियातन गांव में पीएसी के साथ ही भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। रविवार को पुलिस ने शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए रूटमार्च भी किया। इस संबंध में क्षेत्राधिकारी सदर पवन गौतम ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस क्षेत्र में सतर्कता बरत रही है।इस मामले में केस दर्ज किया गया है। अगर जबरन धर्म परिवर्तन कराया गया है तो बयान दर्ज होने के बाद कार्रवाई की जाएगी।  इस मामले में अब करणी सेना ने कड़ा रुख अपना लिया है .. करणी सेना ने इस पूरे मामले में तत्काल कार्यवाही की मांग करते हुए धर्मान्तरण करवाने वाले सभी लोगों को अविलंब जेल भेजने की बात कही है .. ऐसा न होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है .. इस मांग को हिन्दू संगठनों ने भी पूरा समर्थन दिया है और धर्मान्तरण करवाने वाले पूरे रैकेट का पर्दाफाश न होने तक आंदोलन जारी रखने की चेतावनी प्रशासन को दी है ..इस मामले मे एक प्रेस वार्ता के बाद करणी सेना अपने अगले कदम का एलान करेगी ..

Share This Post

Leave a Reply