तेलंगाना सरकार पर ओवैसी को कौड़ियों के भाव जमीन देने का आरोप.. वो ओवैसी जो कुख्यात है आतंकियों की पैरवी करने व हिन्दुओ के नरसंहार की धमकी देने के लिये

आखिरकार सुदर्शन न्यूज के प्रधान संपादक श्री सुरेश चव्हाणके जी के उन तमाम दावों पर एक एक कर के मुहर लगनी शुरू हो गई है जो उन्होंने काफी पहले बता दिए थे.. खुद को भारत के ही अभिन्न अंग हैदराबाद में पुलिस द्वारा जाने से रोके जाने पर उन्होंने बताया था कि न सिर्फ तेलंगाना पुलिस बल्कि तेलंगाना की पूरी सरकार ही हिंदुओं को 15 मिनट में खत्म करने की धमकी देने वाले व पूरे भारत मे खुलेआम शरिया कानून लगाने की धमकी देने वाले ओवैसी भाईयो के प्रभाव व दबाव में चल रही है .. इन तमाम आरोपों को उस समय बल मिला जब एक अंग्रेजी अखबार के दावों से मच गया राजनैतिक घमासान ..

ज्ञात हो कि देशद्रोही बयानों व आतंकियों की परस्ती के लिए कुख्यात हैदराबाद के एआईएमआईएम प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी एक बार फिर चर्चा में हैं। लेकिन इस बार अपने बयान के कारण नहीं बल्कि अन्य विवाद की वजह से है। स्थानीय मीडिया में छपी खबरों के अनुसार, तेलंगाना सरकार ने ओवैसी बंधुओं को अस्पताल बनाने के लिए शहर की कुछ जमीन काफी कम कीमतों पर दे दी है जिसके बाद से इस पर सवाल उठ रहे हैं।

अंग्रेजी अखबार Deccan Chronicle की खबर के मुताबिक, राज्य सरकार ने हैदराबाद के बंदलागुडा इलाके में ओवैसी बंधुओं को जो जमीन दी है, वह करीब 6250 स्क्वायर यार्ड है। इसकी कीमत कुल 3.75 करोड़ रुपए बताई जा रही है। रविवार को हुई कैबिनेट बैठक में इसकी मंजूरी दी गई। हालांकि, इस जमीन का बाजार भाव देखें तो वो कहीं ज्यादा है। बताया जा रहा है कि मार्केट में अभी इतनी ही जमीन का दाम लगभग 40 करोड़ रुपए तक का है।

ओवैसी और मुख्यमंत्री के। चंद्रशेखर राव के संबंध हमेशा से ही अच्छे रहे हैं। 2014 के बाद से ही इनमें और भी मधुरता आई है। इससे पहले इसी जमीन को लेकर पिछली सरकार के साथ ओवैसी बंधुओं का विवाद भी चल रहा था। बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले ही ओवैसी ने मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी, जिसके बाद अब ये जमीन दे दी गई।

Share This Post