Breaking News:

रात में सोये तो गाँव का नाम था “मल्हुआ”. सुबह सो का उठे तब तक गाँव हो चुका था “हबीब नगर”.. एक रात में चुनौती दे कर बना दिया मुस्लिम गाँव वो भी योगीराज में

ये घटना गवाह है की कैसे अपने शासन काल में मुगलों ने पूरे भारत एक स्वरूप को विकृत किया रहा होगा . इस से साफ़ साफ़ पता चलता है की कैसे जबरन धर्मांतरण हुए होंगे और किस प्रकार से उसको इंकार करने के बाद हुआ होगा नरंसहार .. ये घटना कश्मीर या बंगाल की नहीं बल्कि इस दुस्साहस को अंजाम दिया गया है उस उत्तर प्रदेश में जहाँ के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी हैं . 

इलाहाबाद के सोरांव इलाके में राजापुर मल्हुआ गांव पड़ता है। गांव में दो-तीन मुस्लिम परिवार रहने लगे और देखते ही देखते इस स्थान पर अब एक छोटी बस्ती बन चुकी है। बुधवार की देर रात एक स्कूल संचालक ने इस जगह को हबीब नगर घोषित कर पोस्टर और बैनर छपवाकर स्कूल के प्रचार के लिए पूरे गांव व आसपास के इलाके में लगवा दिए। गुरुवार की सुबह जब पोस्टर पर ग्रामीणों की नजर पड़ी तो हिंदू संगठन के लोगों ने ऐतराज जताया और देखते ही देखते हंगामा खड़ा हो गया। विदित हो की एक दुस्साहसिक घटना में उत्तर प्रदेश की धर्मनगरी और संगम नगर कहे जाने वाले इलाहाबाद जिले में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है।

यहां सोरांव थाना क्षेत्र के राजापुर मल्हुआ गांव को रातों रात हबीब नगर बना दिया गया। इसके लिए जगह-जगह प्रचार वाले पोस्टर दीवारों पर चिपकाये गए और सुबह जब लोगों ने इसे देखा तो बखेड़ा खड़ा हो गया। सूचना पर विश्व हिंदू रक्षा संगठन के मंडल सचिव पंकज ओझा दल बल के साथ मौके पर पहुंच गए और देखते ही देखते हंगामा शुरू हो गया।  हिंदू संगठन के लोगों ने जगह-जगह लगाये गए पोस्टर और बैनरों को वहां से हटा दिया और आग के हवाले कर दिया। ग्रामीणों के एकत्रित होने के बाद पोस्टर लगाने वाले स्कूल संचालक का घेराव कर बदसलूकी की गई। गांव का माहौल खराब करने और सांप्रदायिक तनाव फैलाने पर चेतावनी दी गई। स्कूल संचालक द्वारा माफी मांगने और हबीब नगर के प्रचार वाली सामग्री हटाने का आश्वासन दिया। स्थानीय लोगों के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हो सका। हिंदू नेता पंकज ओझा ने बताया कि हिंदुओं के गांव को हबीब नगर बनाकर सांप्रदायिक तनाव फैलाने की साजिश की जा रही है और इसके पीछे कोई बड़ी साजिश है .. 

Share This Post