दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री तथा कांग्रेस की कद्दावर नेता शीला दीक्षित का निधन.. एस्कॉर्ट अस्पताल में ली अंतिम सांस

देश की राजधानी दिल्ली से बड़ी खबर सामने आई है. खबर के मुताबिक, कांग्रेस की कद्दावर नेता तथा दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का निधन हो गया है. पिछले कुछ समय से शीला दीक्षित की तबियत खराब चल रही थी. तबियत ज्यादा खराब होने पर आज उन्हें दिल्ली के एस्कॉर्ट अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां आज दोपहर 3:30 बजे शीला दीक्षित ने अंतिम सांस ली. शीला दीक्षित 81 वर्ष की थी.

शीला दीक्षित साल 1998 से 2013 तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं. उनके नेतृत्व में लगातार तीन बार कांग्रेस ने दिल्ली में सरकार बनाई. वह सबसे लंबे समय (15 साल) तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं. कांग्रेस की कद्दावर नेता रहीं शीला दीक्षित का जन्म 31 मार्च 1938 को पंजाब के कपूरथला में हुआ था.उन्होंने दिल्ली के कॉन्वेंट ऑफ जीसस एंड मैरी स्कूल से पढ़ाई की और फिल दिल्ली यूनिवर्सिटी के मिरांडा हाउस कॉलेज से मास्टर्स ऑफ आर्ट्स की डिग्री हासिल की.

शीला दीक्षित साल 1984 से 1989 तक उत्तर प्रदेश के कन्नौज से सांसद रहीं. बतौर सांसद वह लोकसभा की एस्टिमेट्स कमिटी का हिस्सा भी रहीं. वर्तमान में शीला दीक्षित कांग्रेस की दिल्ली प्रदेश की अध्यक्ष थी तथा अगले साल होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस में जान फूँकने की कोशिश कर रही थी. शीला दीक्षित के निधन के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं में शोक की लहर दौड़ गई है.

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW