DU की छात्रा जिसके नस नस में बसी थी धर्मनिरपेक्षता, लेकिन उसके बॉयफ्रेंड साहिल खान ने फेंक दिया उसको छत से… ये लव है या जिहाद ?

हिंदुस्तान के लिए खतरा बन चुके जिहादियों पर यदि समय रहते लगाम नहीं लगाई तो वो दिन दूर नहीं जब इस देश पर जिहादियों का कब्ज़ा होगा और हिन्दू माताओं, बहनो का सरेआम बलात्कार किया जायेगा। हिन्दू समाज ने अपनी सहनशीलता और जातिवाद के कारण मुगलों और अंग्रेजो की गुलामी झेली। क्या अब जिहादियों के आगे भी हिन्दू समाज को चुप रहने की आवश्यकता है। फेसबुक के जरिये जिहाद करने वालो की तादात लगातार बढ़ते जा रही है। हिन्दू नाम रखकर जिहादियों ने फेसबुक पर अपना जाल फैला रखा है।

जिसके जरिये ये लोग पहले हिन्दू लड़कियों को नाम बदल कर अपने प्रेम जाल फसांते है। और जब तक इनकी सच्चाई लड़की को पता चलती है तब तक ये लोग उन लड़कियों का जबरन बलात्कार कर चुके होते है। अपने मनसूबे में कामयाब होने के बाद ये लोग अपना असली रंग दिखाते है। जबरन धर्म परिवर्त करना इनके लिए फिर और आसान हो जाता है। क्या सिर्फ हिन्दू संगठन से जुड़े लोग ही अब हर मुद्दे पर आगे आएंगे ? क्या पूरा हिन्दू समाज इनके खिलाफ एक जुट नहीं हो सकता ?

अगर नहीं तो फिर वो किस दिन का इंतज़ार कर रहे है जब ये पूरा हिन्दुओ का स्वर्ग नर्क में बदल जायेगा।

फेसबुक के जरिये डीयू की एक छात्र को जिहाद का शिकार बनाया गया है। दरअसल साहिल खान नामक आरोपी ने पहले फेसबुक के माध्यम से छात्रा को अपने प्रेम जाल में फंसाया और शादी करने की बात कहने लगा जब छात्रा को पता चला की वह दूसरे धर्म तो उसने उससे दुरी बनाना शुरू कर दिया। शादी से इंकार करने पर एक युवक ने छात्रा को छत से नीचे फेंक दिया।

वारदात से पूर्व 21 वर्षीय छात्रा ने अपनी मां को कॉल कर वहां आने के लिए कहा था। मां जब तक पहुंची तब तक आरोपी छात्रा को दूसरी मंजिल से नीचे फेंक चुका था। गंभीर हालत में छात्रा को बीएल कपूर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस ने हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर आरोपी साहिल खान (23) को गिरफ्तार कर लिया है। करोलबाग थाना पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है। घटना स्थल के पास लगे सीसीटीवी कैमरों की भी मदद ली जा रही है।

पुलिस के मुताबिक सपना (21)(बदला हुआ नाम) परिवार के साथ करोलबाग इलाके में रहती है। वहीं आरोपी साहिल खान भी करोलबाग इलाके में ही रहता है। आरोपी का अपना कारोबार है। करीब दो साल पूर्व फेसबुक के जरिये सपना और साहिल की दोस्ती हुई थी। फेसबुक पर चेट करने के बाद दोनों एक दूसरे से मिलने लगे।

सपना डीयू एसओएल बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा है। दोस्ती होने के बाद साहिल ने सपना को एक महंगा फोन तोहफे में दिया।

आरोप है कि 30 दिसंबर को साहिल ने सपना को कॉल कर बताया कि उसके माता-पिता दोनों के रिश्ते के लिए तैयार हो गए हैं। जल्द ही परिवार उसके परिजनों से शादी की बात करेंगे।
इस बात पर सपना ने शादी से इंकार करते हुए कहा कि वह अपने माता-पिता की मर्जी के बगैर शादी नहीं करेगी। अगले दिन रविवार शाम को साहिल ने सपना को अपने घर बुलाया। वहां शादी का दबाव बनाने लगा।विरोध करने पर आरोपी अपने तोहफे वापस मांगते हुए उसे जान से मारने की धमकी देने लगा।

सपना ने अपनी मां को कॉल कर 70 हजार रुपये लाने के साथ सारी बात बताई। मां पैसे लेकर पहुंची तो सपना को छत से नीचे फेंकने की बात पता चली।
मामले की शिकायत पुलिस से की गई। छानबीन के बाद पुलिस ने हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर आरोपी को दबोच लिया। फिलहाल सपना बयान देने की हालत में नही है। पुलिस उसका बयान लेने का प्रयास कर रही है।

Share This Post